3 पुजारियों ने आश्रम में दो महिलाओं की लूटी अस्मत, बंधक बनाकर किया दुराचार

अमृतसर: पंजाब के अमृतसर जिले से एक हैरान घटना सामने आईं है. मंदिर में माथा टेकने आई 2 महिलाओं को आश्रम में बंधक बनाकर तीन पुजारि और एक ड्राइवर द्वारा सामूहिक गैं’गरे’प किया गया इन चार आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दो आरोपी फरार हैं. पुलिस ने दोनों महिलाओं को आश्रम से मुक्त कराया है।

मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस ने गुरु ज्ञान नाथ आश्रम बाल्मीकि तीर्थ के मुख्य महंत गिरधारी नाथ और उसके एक साथी वरिंदर नाथ को गिरफ्तार कर लिया है. बटाला के तलवंडी भरतवाल और गांव चांगला निवासी दो महिलाएं रविवार को रामतीर्थ में माथा टेकने आई थी इस दौरान वह मंदिर में स्थित डेरा ज्ञाननाथ में माथा टेकने पहुंची तो वहां पुजारी नछत्तर नाथ, गरदारी लाल, वरिंदर नाथ मौजूद थे।

वन इंडिया की खबर के अनुसार, डेरे के साथ ही इन पुजारियों का कमरा था। इसके बाद तीनों पुजारी उन्हें कमरे में ले गए और बारी-बारी से दुष्कर्म किया। पुजारियों का साथ उनके ड्राइवर सूरज नाथ ने भी दिया। इसके बाद उन्हें बंदी बना लिया।

पुलिस ने बताया कि महिलाओं के अनुसार, इन लोगों ने दोनों को बंदी बना लिया दोनों महिला ने बड़ी चतुराई से एक आरोपी का मोबाइल फोन चुरा लिया और घटना की जानकारी घरवालों को दी। इसके बाद डीएसपी अमनदीप कौर की अगुवाई में पुलिस टीम मंदिर रामतीर्थ में पहुंचे और दोनों महिलाओं को वहां से छुड़वाया।

विक्रमजीत दुग्गल ने ड्यूटी मैजिस्ट्रेट जगसीर सिंह व एस.सी. कमिशन के सदस्य के साथ डेरे पर जाकर जहां पी’ड़ित महिलाओं को रैस्क्यू किया, वहीं दु’ष्क’र्म में नामजद नछत्तर नाथ व सूरज नाथ को गिरफ्तार भी कर लिया है. बाकि दो फरार बताये जा रहे है।