आज तक ने दिखाई दिल्ली के मेजर की कोरोना से मौ’त की झूठी ख़बर, मुश्किल में फँसा चैनल

इस वक्त पूरी दुनिया, कोरोना महामा’री से जूझ रही है. ऐसे में पूरी दुनिया के सभी लोग अपने-अपने घरों में बंद हैं. इस कोरोना के चलते सुरक्षा के मद्देनज़र, जिससे कम से कम लोगों तक कोरोना फैले इसके लिए कुछ देशों को छोड़कर, लगभग सभी देशों ने अपने यहाँ सभी कारखाने, फैक्ट्रियां, मिल यहाँ तक कि आम नागरिकों की दुकानें तक बंद करा दिन.

सरकारों ने लॉक डाउन के चलते सभी लोगों को अपने घरों में रहने की भी हिदायत दी है. जब सब कुछ ठप हो चुका है, ऐसे में दुनियाभर समेत भारत के लोग भी अपने घरों के अंदर बैठकर मनोरंजन के साधन जैसे की फिल्में देखना, यूट्यूब पर वीडियो देखना या घर के कुछ काम करके किसी भी तरह से अपना वक्त काटने के लिए मजबूर हैं.

Delhi Mejour Ranjit Singh News

अपने देश और दुनिया के दूसरे हिस्सों की खबर हमें, न्यूज़ चैनल देखने से मिल रही है. इसके अलावा कुछ ऐसे लोग भी हैं जो सोशल मीडिया पर ज़्यादा एक्टिव रहने की वजह से टीवी देखना पसंद नहीं करते.

आमतौर पर, सोशल मीडिया पर जब हम किसी भी तरह की न्यूज़ देखते हैं तो एकदम से उस न्यूज़ पर हमें भरोसा नहीं होता, फिर उसी न्यूज़ को किसी चैनल पर देखने के बाद हमें यकीन होता है कि ये न्यूज़ सही है. तब जाकर दिल को तसल्ली होती है कि यार ये न्यूज़ सही है, क्यूंकि चैनल ने भी दिखा दी है.

लेकिन, क्या आप जानते हैं कि जिस न्यूज़ चैनल पर आप लोग जो ख़बरें देखते हैं, उन्हीं टीवी चैनलों और हमारी भारतीय मीडिया की विश्वसनीयता दुनियाभर में 180 में से 140वें स्थान पर है.

भारत का मीडिया फेक न्यूज़ फैलाने के मामलों में चर’म पर है. यह कितने शर्म की बात है कि हम दुनिया भर में इस कदर बदना’म हो चुके हैं कि हमें 180 में से 140वाँ स्थान मिला हुआ है.

अब बात करते हैं उस खबर की जो एक परिवार और उनके रिश्तेदारों के लिए सद’मा सा बन गयी थी. लोगों ने जब अपने एक रिश्तेदार के स्वर्ग सिधार जाने की खबर देखी तो वह लोग अनके घर फोन करके शो’क सन्देश देने लगे, तब जाकर परिवार को पता चला कि मेजर साहब की मौ’त की झूटी खबर दिखाई गयी है.

देश के जाने-माने बड़े चैनल ‘आज तक’ ने दिल्ली के मेजर की मौ’त की झूठी खबर चला दी, यह खबर जब उनके रिश्तेदारों ने देखि तो वह मेजर साहब के घर फोन करके उनके परिजनों से जानकारी लेने लगे कि यह सब कैसे क्या हुआ. इसके बाद खुद मेजर साहब भी झल्ला गए, कि इतना बड़ा चैनल यह सब कैसे कर सकता है.

डिफेन्स कॉलोनी वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष हैं मेजर रंजीत

आपको बता दें कि मेजर रंजीत सिंह दिल्ली की डिफेन्स कॉलोनी के वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष हैं. जब मेजर रंजीत सिंह को यह पता चला के आज तक चैनल पर मेरी मौ’त की झूटी खबर चल गयी है तो वह भी भड़’क उठे.

मेजर रंजीत सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल से एक पोस्ट कर अपने परिचितों और चैनल को अपने सकुशल होने की जानकारी दी. इसके बाद मेजर सिंह ने अपने ट्वीट में आजतक चैनल को टैग कर अपनी मौ’त की ख़बर वाली फोटो लगाते हुए लिखा कि ‘मै डिफेन्स कॉलोनी वेलफेयर एसोसिएशन का अध्यक्ष हूँ और मै अभी जिंदा हूँ. क्या तुम मेरा भविष्य देख सकते हो? बेवकूफों होश में आओ’

Mejor Ranjeet Sigh Dilli News

इसके बार मेजर रणजीत सिंह ने उसी तस्वीर को लेकर एक और ट्वीट किया, जिसमे आज तक चैनल को फटकारते हुए कहा कि ‘मै डिफेन्स कॉलोनी वेलफेयर एसोसिएशन का अध्यक्ष मेजर रंजीत सिंह हूँ. मूर्खों मै जिंदा हूँ. तुह्मी वजह से मेरे परिवार वाले बेहद परेशान हैं.

उन्होंने ये भी लिखा कि ‘अब या तो माफ़ी मांगो या क़ानूनी कार्यवाही के लिए तैयार रहो’. आपको बता दें दोस्तों के अभी तक आज तक चैनल ने मेजर रंजीत सिंह को इस खबर की प्रतिक्रिया पर कोई जवाब नहीं दिया है. और न ही उन्होंने इस खबर का खंडन करते हए अपने चैनल पर कोई माफीनामा जारी नहीं किया.

यह है हमारे देश का मीडिया. ऐसे न जाने कितने लोगों के बारे में झूठी ख़बर परोसी जाती है देश के लोगों को, अगर इत्तेफ़ाक से वो ख़बर पकड़ में आ गयी तो ठीक, वरना दें भर फ़र्ज़ी न्यूज़ देख-देख कर अपना भेजा फ्राई करते रहो, कब लगाम लगेगी ऐसे चैनलों पर?.

Leave a Comment