अमित शाह बोले ‘देश के गद्दारों को’ जैसे बयानों की वजह से दिल्ली में हार हुई है !

दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आए और भाजपा की करारी हार हुई. जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी ने एक आपातकालीन बैठक भी बुलाई गयी. जिसमें काफी कुछ मंथन किया गया. इसके बारे में हम बाद में बात करेंगे लेकिन दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के 2 दिन बाद। गृह मंत्री अमित शाह का बयान आया है।

उन्होंने कहा है कि दिल्ली चुनाव में इस तरह से गोली मारने वाले बयान देना ठीक नहीं है। लेकिन डंडा मारने वाली बात भी कहना गलत है. आपको बता दें कि राहुल गांधी ने एक सभा में बयान दिया था। जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कहा था कि 6 महीने बाद जब यह घर से निकलेंगे तो लोग इन को डंडे मारेंगे।

देश के गद्दारों को, गोली मारो सालों को जैसे बयानों की वजह से दिल्ली में हार हुई

CAA or Delhi Election par amit shah

अमित शाह ने यह भी कहा कि हमारा मन शुध्ध है, और हम साफ मन से ही काम करते हैं। हमने कभी भी किसी को धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं किया है.

फिलहाल। दिल्ली विधानसभा। चुनाव में भाजपा के हाथ अभी सब 7 सीट ही लग पाई है, जबकि आम आदमी पार्टी ने 62 सीटें जीतकर अपना दबदबा कायम रखा है।

CAA पर एक बार फिर बोले अमित शाह

नागरिकता संशोधन कानून पर बोले, आज फिर से में देश को बताना चाहता हूं कि CAA में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है, जो देश मुसलमानों की नागरिकता ले सकता हो. कश्मीर का सवाल पूछने पर उन्होंने कहा कि कश्मीर में पूरी तरह से शांति स्थापित हो चुकी है।

वहां सब कुछ सामान्य अब वहां कोई भी आ जा सकता है। लेकिन अगर कोई वहां भड़काऊ भाषण देगा तो सरकार को। कुछ कदम उठाने ही पड़ेंगे।

हालांकि अभी वहां के बड़े नेता सुरक्षा के प्रावधानों के मद्देनजर नजरबंद हैं। आपको बता दें कि गृहमंत्री अमित शाह को दिल्ली विधानसभा चुनाव की हार पर मलाल है। इसका ज़िम्मेदार वो उनकी पार्टी के विधायकों द्वारा लगाये गए नारों को मानते हैं.

और अब शायद वह सभी विधायकों को इस तरह से नसीहत दे चुके हों, या आगे चल कर दें कि चुनावी रैलियों के दौरान जोश में, नारेबाजी या भाषण देते समय वह क्या बोल रहे हैं इस पर लगाम लगनी चाहिए।

Leave a Comment