Asaduddin Owaisi के बयान पर मचा बवा’ल, कहा- आरएसएस नहीं चाहता है कि मुसलमान भी…

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर एक बार फिर हिंदुत्व पर निशाना साधा है.

नई दिल्ली: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने हिंदुत्व को लेकर एक बार फिर विवा’दास्पद बयान देकर बवा’ल खड़ा कर दिया है. इससे पहले ओवैसी ने आरएसएस (RSS) पर निशाना साधते हुए कहा था कि संघ एक ऐसा भारत चाहता है, जहां एक धर्म को पहचान मिल सके।

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि, ‘संविधान व्यक्तिगत गरिमा, विविधता और सामाजिक न्याय का प्रतीक है। जब संघ संविधान की सराहना करता है तो वह इन आवश्यक मूल्यों की कभी बात नहीं करता है क्योंकि वह ऐसा भारत चाहता है, जहां एक धर्म और पहचान सर्वोच्च हो जाये. यह हमारे संस्थापकों की दृ’ष्टि बराब’र और सिर्फ भारत के विपरीत ध्रुवी’य है।

Asaduddin Owaisi

वही अब एक बार फिर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने हिंदुत्व पर निशान साधते हुए कहा, कि हिंदुत्व इस झूठ पर बना है. कि केवल एक ही समुदाय के पास राजनीतिक शक्ति होनी चाहिए. ओवैसी ने आरोप लगाया कि संघ नहीं चाहता है कि मुसलमान भारत की राजनीति में हिस्सा लें।

ओवैसी ने कहा, की हिंदुत्व इस झूठ पर बना है कि सिर्फ एक समुदाय के पास सभी राजनीतिक ताकत होनी चाहिए और किसी और धर्म को मानने वाली पार्टी का राजनीति में भाग लेने का कोई अधिकार नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा की संसद और विधानसभाओं में हमारी अधिक उपस्थिति संघ के हिंदुत्व के खिलाफ चुनौती का काम करती है।

आपको बता दें ओवैसी का यह बयान ऐसे वक्त में आय है, जब उनकी पार्टी ने बिहार विधानसभा चुनाव में पांच सीटों पर अपना कब्जा जमा लिया है. वही इस जीत से उत्साहित ओवैसी ने कहा है कि वह अगले साल होने वाले पश्चिम बंगाल और इसके बाद उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भी पूरी ताकत से लड़ें’गे।