राम मंदिर शिलान्यास का जश्न: बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने मुस्लिमों को बनाया बं’धक, प’थराव, आ’गज’नी, लॉकडाउन तो’ड़ सड़कों पर निकले भाजपाइयों की पुलिस से भि’ड़ंत

अयोध्या में राम मंदिर जन्मभूमि का भूमिपूजन बुधवार को संपन्न हुआ. इस दौरान देश भर में हिन्दू संगठन द्वारा खूब जश्न मनाया गया. लेकिन इस दौरान असम के सोनितपुर जिले में उस वक्त तनाव उत्पन्न हो गया जब स्थानीय मुस्लिम निवासियों की बजरंग दल के सदस्यों के साथ क’थि’त तौर पर हा’थापा’ई हो गई. पुलिस ने बताया कि यह घ’टना उस वक्त हुई जब बजरंग दल के सदस्यों द्वारा मंदिर शि’लान्या’स के दौरान जु’लूस निकाला जा रहा था.

नाम जाहिर ना करते की शर्त पर जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह वि’वा’द उस समय शुरू हुआ जब बजरंग दल वालों ने एक स्थानीय मंदिर के पास बाइकों से जुलूस निकाला. इस दौरान दोनों पक्षों के बीच प’थरा’व हुआ और पांच मुस्लिमों को ज’बर’न बं’ध’क बनाकर एक कमरे में बंद कर दिया गया.

अधिकारियों के अनुसार थेलमाड़ा पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में एक बाइक और टाटा मैजिक वाहन को आग के ह’वा’ले कर दिया गया. कुछ लोगों को दोनों पक्षों के बीच हुई झ’ड़’प के दौ’रान चो’टें भी आई हैं.

इस मामले को लेकर सोनितपुर के डीसी मनवेंद्र प्रताप सिंह ने द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा कि थेलमाड़ा पुलिस स्टेशन के क्षेत्र में आने वाले कुछ इलाकों में दो तीन दिनों के लिए क’र्फ्यू लागू कर दिया गया है.

वहीं मामले को लेकर द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में एडीजीपी कानून व्यवस्था जीपी सिंह बताया कि अब हा’लात काबू में और शांतिपूर्ण हैं. इलाके में पर्याप्त सु’रक्षाब’लों की तै’ना’ती कर दी गई है.

वहीं पश्चिम बंगाल में राम मंदिर निर्माण के भू’मिपू’जन के दिन पूर्ण लॉकडाउन लागू किया गया था. लेकिन मंदिर की आ’धार’शि’ला रखे जाने की ख़ुशी में राम भ’क्तों द्वारा उत्सव मनाया गया.

हालांकि इस दौरान लॉकडाउन का पालन कराने में जुटी पुलिस और उनके बी’च राज्य के अलग-अलग हि’स्सों में झ’ड़’पें देखने को मिली. पुलिस के अनुसार राज्य के कई हिस्सों से क’डाउ’न उल्लंघन के चलते कुल 3,400 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जिसमें से 850 लोग शहर से ही गिरफ्तार किए गए हैं.

साभार- जनसत्ता