VIDEO: सैलाब के चलते ब्रह्मपुत्र नदी में समा गई तारीखी ईदगाह, देखें

देश भर में इस समय कोरोना ने अपना कहर बरसा रखा है. वहीं दूसरी तरफ देश भर में लगातार प्रकुतिक आपदाएं देखने को मिल रही है. देश के अलग-अलग हिस्सों से बाढ़ और भूकंप जैसी गंभीर और दुखद घटनाएँ लगातार सामने आ रही है. पिछले कई दिनों से बिहार और असम बाढ़ की चपेट में है लेकिन इसके बाद भी ना तो मीडिया इस मुद्दे को गंभीर से ले रही है और ना ही सरकार राहत के लिए कोई ठोस कदम उठा रही है.

इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आया है जिसमें इक ईदगाह को बहते हुए देखा जा रहा है. दरअसल यह वीडियो असम का है, यहां तबाही मचा रहे सैलाब में एक ईदगाह भी समा गया है.

मानकासर ज़िले बेरा भांगर में एक तारीखी ईदगाह इस भारी जल सैलाब की जद में आकर ब्रह्मपुत्र नदी की गोद में समा गया है. बताया जा रहा है कि इस ईदगाह में एक अगस्त पर गुज़िश्ता ईद-उल अज़हा के मौके पर ईद की नमाज़ भी अदा की गई थी.

वहीं ईदगाह के नदी में समा जाने से मकामी लोगों में काफी गम और गुस्से का माहौल देखने को मिल रहा है. मकामी लोगों ने मीडिया से बात करते हुए आरोप लगाए की अगर सरकार हमारी बात सुन लेती तो ऐसा नहीं होता.

उनका कहना है कि क्षेत्र के लोग लंबे समय से बांध बनाने की मांग कर रहे है अगर यहां बांध बना दिया जाता तो शायद आज ये मंज़र देखने को नहीं मिलता. लेकिन सवाल सिर्फ सरकारी खामियों पर ही नहीं उठते है बल्कि सवाल उन मुस्लिम तंज़ीमों या इदारों पर उठ रहे है जो वक्त-वक्त पर बयान जारी करते रहते है और मीडिया और लोगों के सामने तरह-तरह के दावे करते हैं.

उन्होंने आगे कहा कि स्थानीय लोग वक्फ बोर्ड पर भी सवाल उठा रहे है. वक्फ बोर्ड महज़ सिर्फ इदारा ही बन कर रह गया है. वो सिर्फ बड़ी-बड़ी बातें करते है लेकिन काम के नाम पर गायब नज़र आता है.

साभार- जी सलाम