गुजरात की ‘आयशा’ के पति आरिफ को पुलिस ने राजस्थान से गिरफ्तार किया

अहमदाबाद: गुजरात की रहने वाली लड़की आयशा, जिसने अभी हाल ही में साबरमती नदी में कूदकर अपनी जिंदगी को ख’त्म कर लिया था. हालाँकि इससे चंद मिनट पहले उसने एक वीडियो जारी किया था, जो सोशल मीडिया में वायरल हो गया था. अगर आपको वह वीडियो देखना है तो यह पोस्ट में नीचे की तरफ हमने वीडियो दिया हुआ है.

आयशा ने उस विडियो के ज़रिये बताया कि किस तरह से वह अपने उस पति से बेइंतेहा प्यार करती थी, लेकिन वह और उसका परिवार उसे हमेशा परेशान करता था, शादी करने के बाद से ही उसे दहेज़ में मोटी रकम नहीं मिली जिसकी वजह से आयशा उसे किसी बोjh की तरह लगती थी और वह उससे पी’छा छु’ड़ाकर अकेला ही रहना चाहता था.

पति ने कहा था, अगर म’रो तो उसका विडियो बनाकर मुझे भेज देना

Arif Ayesha ka pati rajasthan se giraftar

पुलिस ने आयशा के पति आरिफ को राजस्थान से गिरफ्तार कर लिया है. अभी इससे पूछताछ की जाएगी फिर उसके बयानों और गवाहों के बयानों के आधार पर छा’नबीन करने के बाद पुलिस कुछ नतीजे पर पहुंचेगी. क्यूंकि केस का दूसरा पहलू और कई बातों का अभी सामने आना और बाकी है.

दरअसल आयशा का सुसराल पक्ष ज़रुरत से ज़्यादा ला’लची किस्म का परिवार निकला, जो अपनी बहु के मायके पक्ष से लगातार शादी के बाद से आयशा के मायके वालों से पैसों की डिमांड करता रहता था. शादी के बाद से सारी बातें धीरे धीरे आयशा को पता लगने लगी थीं, वह उनको जैसा समझती थी वह वैसे नहीं निकले.

ऐसे ला’लची परिवार न जानें कितनी बेटियों के जीवन को नRक बना रहे हैं

राजस्थान का रहने वाला यह मु’स्लिम परिवार एक ला’लची प्रवृत्ति का परिवार था, जो समय-समय पर ससुराल पक्ष से कुछ ना कुछ डिमांड करता ही रहता था. आयशा अपने पिता के पास कुछ वक्त पहले ही अहमदाबाद आई थी, और बाद में उनके साथ ही रहने लगी.

बात यह है कि अगर वह अकेला रहना ही चाहता था तो 2 साल पहले, मतलब 2018 में  उसने अहमदाबाद की आयशा से शादी क्यों की? इस वीडियो में आप देखेंगे कि आयशा विडियो में अपने सारे ग’म छुपाकर सबसे माफी माँगती है और दोस्तों से अपने लिए दुआ करने के लिए भी कहती है.

वह कहती है कि मां बाप अच्छे मिले, दोस्त भी बहुत अच्छे मिले. सब कुछ अच्छा चल रहा था लेकिन शायद इसे मेरी किस्मत ही कहिए कि जो हो रहा है वह सही नहीं है.

आयशा अपने पति से बहुत प्यार करती थी, लेकिन वो नहीं करता था

यह वीडियो सोशल मीडिया में आने के बाद पता चला कि दरअसल आयशा के पिता ने, उसके ससुराल पक्ष से एक तरह से तं’ग आकर आयशा को घर में बैठाने का फैसला कर लिया था, शादी में जो दिया वो तो ठीक है.

लेकिन शादी के बाद भी काफी रुपया लेने के बावजूद उन्होंने, डेढ़ लाख रुपए की रकम सिर्फ इसीलिए ली कि वह अपनी बच्ची को उसके घर वापिस ले जा सकें.

उसके पति और इसके घरवालों के ला’लच आयशा और उसके पिता को चुकानी पड़ी. तब से आयशा अपने पिता के पास ही रह रही थी.

दिल्ली (नोएडा) के रहने वाले ज़ुबैर शैख़, पिछले 10 वर्षों से भारतीय राजनीती पर स्वतंत्र पत्रकार और लेखक के तौर पर कई न्यूज़ पोर्टल और दैनिक अख़बारों के लिए कार्य करते हैं।