Ayodhya Masjid: अयोध्या में मस्जिद निर्माण के लिए हिंदू शख्स ने दिया पहला दान

अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू हो गया है, राम मंदिर के निर्माण के लिए राम मंदिर ट्रस्ट को देश-विदेश से बड़ी तादात में लोगों से भारी समर्थन हासिल हो रहा है. वहीं अब अयोध्या के रौनाही में बनने वाली मस्जिद निर्माण की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है और इसके लिए दान जुटाने के लिए इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन (Indo Islamic Cultural Foundation) की स्थापना की गई हैं जिन्हें अपना पहला दान प्राप्त हो गया है.

आपको बता दें कि शनिवार को मस्जिद निर्माण ट्रस्ट को सबसे पहली आर्थिक सहायता लखनऊ यूनिवर्सिटी के लॉ डिपार्टमेंट के रोहित श्रीवास्तव द्वारा 21 हज़ार रुपये के रूप में प्राप्त हुई है. रोहित ने मस्जिद निर्माण के लिए दान देते हुए हिन्दू-मुस्लिम एकता की मिसाल पेश की है.

Babri Masjid

इंडो इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन के प्रवक्ता अतहर हुसैन द्वारा हाल ही में रोहित श्रीवास्तव के 21 हज़ार के चेक को ट्रस्ट ले खाते में जमा करावा दिया गया है. अतहर हुसैन ने कहा कि भारत को हमेशा से अपनी गंगा जमुनी तहज़ीब के लिए जाना जाता रहा है.

इसी की एक और बेहतरीन मिसाल शनिवार को यूपी की लखनऊ में एक बार फिर से देखने को मिली हैं. आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सरकार द्वारा ट्रस्ट को अयोध्या के रौनाही में 5 एकड़ जमीन दी गई है जिस पर मस्जिद निर्माण किया जाना है.

ट्रस्ट के अनुसार इस जमीन पर मस्जिद और अस्पताल के साथ कई और भवनों के निर्माण भी किये जाएगें. इन भवनों के निर्माण के लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड की तरफ से इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन नामक ट्रस्ट को गठित किया गया है.

इसके बाद IICF द्वारा निर्माण कार्य शुरू करने के लिए देश और दुनिया से दान जुटाने के लिए 2 बैंक अकाउंट खोले गए है और शनिवार को मस्जिद निर्माण ट्रस्ट को अपना पहला दान रोहित श्रीवास्तव द्वारा प्राप्त हुआ.

आपको बता दें कि पहला दान देने वाले रोहित श्रीवास्तव एक हिन्दू है. रोहित श्रीवास्तव लखनऊ यूनिवर्सिटी के लॉ डिपार्टमेंट के कर्मचारी है, इन्होने लखनऊ स्थित इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन के दफ्तर पहुंच कर 21 हज़ार रुपये का चेक दान स्वरूप दिया है.

इस दौरान इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन के सचिव और प्रवक्ता अतहर हुसैन के आलावा ट्रस्टी मोहम्मद राशीद भी मौजूद थे. वहीं अतहर हुसैन ने इस पर खुशी का इज़हार करते हुए रोहित के इस कदम को गंगा जमुनी तहजीब का शानदार उदहारण बताया.

साभार- न्यूज़18