राष्ट्रपति के बयान पर मचा बबाल कहा- महिलाएं गंदी शक्ल वाले लोगों पर लगाती है..

उच्चासीन पदों पर विराजमान किसी देश का राष्ट्रपति अगर ये कहे की महिलाएं सिर्फ गंदी शक्ल वाले लोगों पर रे#प का आरोप लगाती हैं। तो क्या होगा ऐसा ही हुआ है इक्वाडोर के राष्ट्रपति लेनिन मोरोनो के साथ, मोरोनो बीते शुक्रवार को City of Guayaquil में इकनोमिक कांफ्रेंस में भाषण दे रहे थे उसी दौरान उन्होंने यह अजीबोगरीब बयान दे दिया जिसके बाद वह सोशल मीडिया ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए।

स्थानीय अखबार EI Universal ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है। राष्ट्रपति लेनिन के द्वारा यह बयान देने के बाद उनकी काफी आलोचना हो रही थी। शुक्रवार को सिटी ऑफ गुआयाक्विल (City Of Guayaquil) में इकनॉमिक कॉन्फ्रेंस के आयोजन के दौरान राष्ट्रपति लेनिन पुरुषों के पक्ष में कहा था कि पुरुष हमेशा यौ#न आरोपों का शि’कार होने से दहशत में रहते हैं।

राष्ट्रपति ने कहा कि महिलाएं यौ#न अ’पराधों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा रही हैं जो कि एक अच्छी बात है, कभी कभी वो गं’दी शक्ल वाले लोगों पर गुस्सा जाती हैं। उन्होंने कहा कि महिलाएं शोषण का आरोप गंदी शक्ल वाले पुरुषों पर लगा देती हैं

लेकिन खूबसूरत और स्मार्ट आदमियों के साथ बनाए गए सं’बंध उन्हें यौ#न शो’षण नहीं लगते कई बार हम ऐसे मामलों को जानबूझकर बढ़ा चढ़ा कर बताते हैं। अब सोशल मीडिया पर यह वीडियो जमकर शेयर किया जा रहा है जिसमें राष्ट्रपति बयान देते हुए नजर आ रहे है, और ट्रोलर्स उन्हें ट्रोल कर कर रहे है।

बता दें आलोचनाओं और मीडिया के दबाब में आकर अगले ही दिन राष्ट्रपति को अपने इस बयान पर सफाई देनी पड़ी| शनिवार को सफाई देते हुए राष्ट्रपति ने कहा मैंने जो यौ#न शोषण पर बयान दिया है उससे मेरा यह तात्पर्य नहीं था कि मैं इस गं’भीर मुद्दे को कमतर बताऊं।

जिन्होंने ऐसा समझा है, मैं उनसे इसके लिए माफी मांगता हूं। मोरोनो ने कहा की मैं महिलाओं के खिलाफ होने वाली किसी भी तरह की हिं’सा के खिलाफ हूं।

अगर इक्वाडोर के आंकड़ो की बात करें तो United Nation ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है की इक्वाडोर में हर 4 में से 1 महिला यौन शोषण का शिकार है साथ ही कहा है की वहां महिलाओं की स्तिथि काफी खराब है  इसके लिए जरुरी कदम उठाये जाने चाहिये |

Leave a Comment