बेंगलुरु में बेकाबू भी’ड़ की हिं’सा और कांग्रेस विधायक पर ह’मले के बाद बोले सीएम येदियुरप्पा कहा- 25 साल में…

कर्नाटक के बेंगलुरु में सोशल मीडिया पोस्ट के चलते भ’ड़’की हिं’सा के दौरान म’रने वालों की संख्या तीन हो चुकी है. सूबे के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने इस हिं#सा की कड़े शब्दों में आलोचना की है. इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए सीएम बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि 25 साल के इतिहास में ऐसा पहले कभी नहीं हुआ. मैंने शाम को एक बैठक बुलाई है जिसमे इसे लेकर चर्चा होगी साथ ही हिं#सा की जांच के लिए स्पेशल टीम बनाई जाएगी.

सीएम ने साफ किया है कि अब हालात पूरी तरह से नियंत्रण में है और अभी तक इस मामले में करीब 110 लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है. वहीं इससे पहले हिं#सा के दौरान सीएम ने ट्वीट करके लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील भी की थी.

वहीं इस मामले को लेकर कर्नाटक के मंत्री सीटी रवि ने दावा करते हुए कहा कि मुझे लगता है यह योजनाबद्ध हिं#सा थी. जैसे ही सोशल मीडिया पर पोस्ट किया गया तो एक घंटे के भीतर ही हजारों की तादात में लोग जमा हो गए और इसके बाद उन्होंने विधायक के आवास पर ह’म’ला बोल दिया.

उन्होंने आगे कहा कि इस दौरान बेकाबू भी#ड़ ने 200 से 300 वाहनों को क्षति पहुंचाई. इस मामले में हम कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेंगे. उन्होंने कहा कि इस हिं’सा के पीछे SDPI (Social Democratic Party of India) का हाथ है.

इस मामले को लेकर पुलिस ने एसडीपीआई के एक नेता मुज्जमिल पाशा को गिरफ्तार भी कर लिया है. पाशा को डीजी हाली पुलिस स्टेशन के पास हुई उ’त्पा’त को लेकर गिरफ्तार किया गया है.

बता दें कि बेंगलुरु के पुलाकेशी नगर में बेकाबू भी#ड़ ने कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर पर ह’म’ला बोल दिया था. उनके घर पर प’थ रा’व किया गया और तोड़फोड़ भी की गई. इस बीच घर के बाहर खड़ी कई गाड़ियों को आ’ग के ह’वाले कर दिया गया.

दं’गाइ’यों ने देखते ही देखते 2 थानों को सूखे तिकने की तरफ फूं’क डाला. इनमें डीजे हाली तथा केजी हाली थाना शामिल है. बताया जा रहा है कि खुद को विधायक का रिश्तेदार कहने वाले एक शख्स ने सोशल मीडिया पर एक कथित पोस्ट किया था जिसके बाद विशेष समुदाय के लोग भ’ड़क उठे और रिश्तेदार की गिरफ्तारी की मांग करते हुए हिं#सा को उतारू को गए.

साभार- जनसत्ता