मुकेश अम्बानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी के लिए रची जा रही है कोई गहरी साजि’श? घर के बाहर मिली चिट्ठी

उद्योगपति मुकेश अंबानी के मुंबई स्थित घर एंटीलिया के ठीक सामने मिली सं'दिग्ध कार के मामले में जांच जारी है. सुरक्षा एजेंसियों ने इसी गाड़ी से एक चिट्ठी बरामद की है, जिसमें ध'मकी दी गई है.

बीते गुरुवार को देश की तमाम सुरक्षा एजेंसियों और पुलिस की नींद उस वक्त उड़ गई जब देश के सबसे अमीर आदमी यानी मुकेश अंबानी के मुंबई स्थित घर एंटीलिया के ठीक सामने वि’स्फो’टकों से भरी एक कार पाई गई. बता दें देश के सबसे प्रतिष्ठित और अमीर बिजनेसमैन मुकेश अंबानी मुंबई अपने एंटीलिया निवास में रहते हैं ऐसे में उनके घर के ठीक सामने एक सं’दिग्ध स्कॉर्पियो खड़ी हुई मिली है।

जानकारी के मुताबिक इस स्कॉर्पियो में जि’लेटिन स्टिक पाई गई जिसके बाद हंगामा मच गया. जैसे ही मुंबई पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों को इसकी जानकारी मिली कि मुकेश अंबानी के घर के ठीक बाहर जि’लेटिन से भरी एक स्कॉर्पियो गाड़ी मिली है तो सुरक्षा एजेंसियां तुरंत हरकत में आई और जांच में जुट गई।

स्कॉर्पियो में मिली चिट्ठी, लिखा- ये सिर्फ ट्रेलर

क्राइम ब्रांच और एटीएस की जांच करने में लगी है जानकारी के अनुसार घर के बाहर स्कॉर्पियो को खड़ी करने की लंबे समय से प्लानिंग चल रही थी। आरोपी इस गाड़ी को घर के बिल्कुल पास खड़ी करना चाहता था लेकिन घर की सुरक्षा की वजह से ऐसा नहीं हो सका, लेकिन लंबे समय से अंबानी परिवार की हरकतों पर नजर रखी जा रही थी उनके हर कॉन्वे को ट्रैक किया जा रहा था।

गाड़ी में मिली चिट्ठी, मुकेश अम्बानी को ध’मकी

जब पुलिस ने गाड़ी की जांच की तो गाड़ी की सीट पर एक मुंबई इंडियंस का बैग रखा हुआ मिला। गौरतलब है कि मुकेश अंबानी मुंबई इंडियन आईपीएल क्रिकेट टीम के मालिक हैं। मुंबई इंडियंस के इस बैग में एक ध’मकी भरा लेटर भी मिला है जिसमें लिखा है कि यह तो सिर्फ एक ट्रेलर है नीता भाभी मुकेश भैया. यह तो बस एक झलक है अगली बार पूरा सामान तुम्हारे पास आएगा सब इंतजाम हो गया है।

एंटीलिया के बाहर कड़े सुरक्षा इंतजाम

बीते गुरुवार एंटीलिया के बाहर सं’दि’ग्ध गाड़ी मिलने के बाद अब वहां सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है। घर के आस-पास मुंबई पुलिस के जवानों की संख्या काफी बढ़ा दी गई है।

इसके साथ ही मुकेश अंबानी के क्लोज प्रोटेक्शन में लगे जवानों की संख्या भी बढ़ाई गई है। इसके अलावा मुकेश अंबानी की सुरक्षा में जो सीआरपीएफ लगी हुई है उसका भी अब रिव्यू किया जा रहा है। इसके अलावा सभी जांच एजेंसियां क्राइम ब्रांच, एटीएस मामले की खोज में जुट गई हैं।

पुणे (महाराष्ट्र) की रहने वाली 'बुशरा त्यागी' पिछले 5 वर्षों से एक Freelancer न्यूज़ लेखक (Writer) के तौर पर कार्य कर रही हैं। 16 साल की उम्र से ही इन्होंने शायरी, कहानियाँ, कविताएँ और आर्टिकल लिखना शुरू कर दिया था।