वीडियो- भारत-चीन सीमा पर चल रहे सड़क निर्माण का निरिक्षण करने गए IES ऑफिसर सुभान अली हुए लापता, अगले महीने होने वाली थी शादी

भारत-चीन के बीच सीमा को लेकर चल रहे विवाद के बीच भारतीय इंजीनियरिंग सेवा के अधिकारी सुभान अली काफी समय से लापता है और अभी तक सुभान अली का कुछ भी पता नहीं चल सका है. सुभान अली भारत-चीन सीमा पर किये जा रहे सड़क निर्माण का निरिक्षण करने के लिए गए थे और वो इसी के बाद से ही लापता बताए जा रहे है. भारतीय सेना के अधिकारी लगातार उनकी तलाश में जुटे हुए हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सुभान अली यूपी के बलरामपुर जिले के कौवापुर कस्बा क्षेत्र के जयनगरा गांव के रहने वाले है. उनके लापता होने से उनके परिवार वाले काफी चिंतित हैं. परिजनों के अनुसार आईइएस सुभान की शादी जुलाई माह में होने वाली थी. घर में शादी की तैयारियां चल रही थी.

उनके भाई शाबान ने बताया कि इसके पूर्व उनकी शादी अप्रैल माह में होने वाली थी लेकिन लॉकडाउन लागू होने के चलते शादी की तारीख को आगे बढ़ाना पड़ा था. 28 वर्षीय सुभान अली के पिता रमजान अली ने बताया कि उनके बेटे ने छह माह पूर्व ही संघ लोक सेवा आयोग की भारतीय इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा उत्तीर्ण की थी.

सिविल इंजीनियरिंग ट्रेड में उन्हें 24वीं रैंक हासिल हुई थी. शुरुआती दौर में सुभान को दिल्ली विकास प्राधिकरण में सिविल इंजीनियर के पद पर तैनाती मिली थी. लेकिन तीन महीने पहले ही सुभान की तैनाती रक्षा मंत्रालय में सिविल इंजीनियर पद पर लद्दाख में हुई थी.

भारत-चीन सीमा पर बने विवाद के बीच सुभान अली की ड्यूटी कारगिल क्षेत्र में बने क्वारंटाइन सेंटर में लगी हुई थी. हिंदुस्तान की खबर के अनुसार भारत-चीन सीमा पर मीना मार्ग से लेकर द्रास तक रोड का निर्माण किया जा रहा है. इसी रोड का निरिक्षण करने के लिए सोमवार को सुभान गए थे.

इसी बीच उनकी जिप्सी अनियंत्रित हो गई और खाई में पलट गई. सेना के अधिकारियों द्वारा सुभान की जिप्सी तो तलाश ली गई है लेकिन अभी तक सुभान का कोई पता नहीं चल सका है.

आईइएस अफसर सुभान अली वीडियो कॉल के जरिए रोज अपने परिवार से बातचीत किये करते थे. भारत और चीन के बीच बढ़ते विवाद को लेकर उनके घरवाले सुभान को लेकर चिंतित रहते थे. सुभान के भाई शाबान ने कहा कि भाई सुभान ने सोमवार को फोन नहीं किया और जब हमने उन्हें कॉल किया तो उन से संपर्क नहीं हो सका.

इसके बाद अगले दिन मंगलवार को सुभान के सीनियर अफसर को कॉल प्राप्त हुए और उन्होंने हमें इस घटना की जानकारी दी. सुभान के परिजनों का घटना की जानकारी होने के बाद से ही बुरा हाल है. सुभान के घर में पिता रमजान, मां मेहरुनिशा, भाई शाबान अली और तीन बहनें शमा परवीन, सीमा व सोनी हैं.

साभार- दैनिक जागरण