चीनी सेना ने भारतीय जवानों को बनाया था बं'ध'क, गलवान की हिं'सक झ'ड़प के 3 दिन बाद दो मेजर सहित 10 जवान रिहा और...

चीनी सेना ने भारतीय जवानों को बनाया था बं’ध’क, गलवान की हिं’सक झ’ड़प के 3 दिन बाद दो मेजर सहित 10 जवान रिहा और…

लद्दाख सीमा पर गलवान घाटी में भारत और चीनी सेना के बीच हुई खू#नी झ’ड़प में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने की पुष्टि हुई थी. इसके बाद अब खबर आई है कि चीनी सेना ने 10 भारतीय जवानों को 15-16 जून को हुई झ’ड़प के बाद से ही बधंक बना रखा था. न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के अनुसार चीनी ने भारतीय सेना के दो मेजर समेत 10 जवानों को बं’ध’क बनाया था जिन्हें तीन दिन तक चली लंबी बातचीत के बाद रिहा किया गया है.

लेकिन अभी तक इस मामले पर सेना की तरह से कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है. इसके उल्ट गुरुवार को जारी किये गए अपने बयान में सेना ने कहा था कि इस कार्रवाई के दौरान कोई भारतीय सैनिक ला’पता नहीं हैं.

लेकिन सेना ने बयान में यह नहीं बताया था कि कोई भारतीय जवान बं’धक बनाया गया था या नहीं लेकिन न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के अनुसार चीनी सेना ने दो मेजर सहित 10 जवानों को बं’ध’क बना लिया था जिन्हें तीन दिन बाद रिहा किया गया हैं.

बता दें कि इससे पहले चीनी सेना ने जुलाई 1962 में भारतीय सैनिकों को बं’दी बना लिया था. गलवा’न घा’टी में ही यु’द्ध के दौरान करीब 30 भारतीय जवान श’ही’द हो गए थे और दर्जनों जवानों को चीनी सेना ने बं’ध’क बना लिया था. जिन्हें बाद में रिहा कराया गया था.

वहीं सेना से जुड़े विश्वसनीय सूत्रों के ह’वा’ले से मीडिया में खबर है कि सोमवार रात को चीनी सेना द्वारा किये गए ह’म’ला में 76 भारतीय जवान घा’यल हो गए थे. इसमें से 18 जवान गं’भी’र रूप से घा’यल हैं.

जबकि 58 मामूली रूप से घायल हुए. 18 जवानों का इलाज लेह के एक अस्पताल में चल रहा है. वहीं 58 अन्य विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं. गुरुवार को भारत और चीन के सेना अधिकारियों के बीच लगातार तींसरे दिन भी मेजर जनरल-स्तर की बातचीत की गई.

इस बातचीत के दौरान सैनिकों के बीच हुई खू#नी झ’ड़’प के साथ-साथ गलवान घा’टी के आसपास के क्षेत्रों में सामान्य स्थिति बहाल करने पर भी सहमती बनाने की कोशिश की जा रही है.

आपको बता दें कि इससे पहले एक ब्रिटिश न्यूज़ एजेंसी ने दावा किया था कि 15 भारतीय जवानों को चीन द्वारा बं’धक बनाया गया है. ऐसे में अब 10 जवानों के रिहा होने की खबरें सामने आ रही हैं.