Bihar Election Result 2020: क्या इस बार गलत साबित होने जा रहें हैं ‘एग्जिट पोल’? स्पष्ट बहुमत कहीं और…

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar assembly election 2020) की 243 विधानसभा सीटों की मंगलवार सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू हो गई है, सबसे पहले बैलेट पेपर से डाले गए मतपत्रों की गिनती चालू हुई है, आपको बता दें बिहार चुनाव के लिये 38 जिलों के 55 मतगणना केंद्रों पर मतगणना हो रही है. हलाकि दोपहर 12 बजे के बाद यह तस्वीर साफ हो जाएगी कि इस बार कौन बनेगा बिहार का सरताज।

वही अगर एग्जिट पोल (Exit Polls) की बात करें तो बिहार के ज्यादातर एग्जिट पोल बता रहे हैं कि इस बार नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की अगुआई वाले NDA दल को नुकसान होता दिखाई दे रहा है. हलाकि कई एग्जिट पोल यह भी बता रहे है. कि तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के नेतृत्व वाला महागठबंधन नीतीश पर भारी पड़ता दिखाई दे रहा है।

शुरुआती रुझानों में महागठबंधन और एनडीए के बीच कां’टे की टक्कर

JDU RJD

गौरतलब है की, 243 सीटों वाली बिहार विधानसभा में हंग असेंबली (Hung assembly) की स्थिति भी आ सकती है, क्योकि इस बार एग्जिट पोल के अनुसार बीजेपी को बढ़त मिलती दखाई दें रही थी, हलाकि शुरुआती रुझानों में तेजस्वी की अगुवाई वाले महागठबंधन और नीतीश की अगुवाई वाले एनडीए के बीच कां’टे की टक्कर दिख रही है।

यहां समझे क्या होती है हंग असेंबली?

हंग असेंबली (Hung assembly) यह एक संसदीय व्यवस्था है, जैसे चुनाव में किसी भी एक पार्टी या गठबंधन को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलता है, तो इसे हंग असेंबली कहा जाता हैं. हलाकि इस स्थिति में दूसरी किसी पार्टी के साथ मिलकर ही सरकार बनाना संभव होता है।

जैसे निर्दलीय विधायक या बाहर किसी दल से समर्थन लेकर भी सरकार बनाई जा सकती है, अगर ऐसे में कोई दल सरकार नहीं बना पाता है तो राष्ट्रपति शासन लगा दिया जाता है। हाल ही में इसका ताजा उदाहरण महाराष्ट्र में देखने को मिला था।

गौरतलब है की, अधिकांश न्यूज़ चैनेलों के एक्जिट पोल में राजद (RJD) नेता तेजस्वी यादव वाले पांच दलों के महागठबंधन को जीत हासिल होने का पूर्वानुमान लगाया है. फिलहाल, देखा जाए तो शुरुआती रुझानों में महागठबंधन और एनडीए के बीच कां’टे की टक्कर चल रही है।