VIDEO: राज्य के शिक्षा मंत्री नहीं गा सके ‘राष्ट्रीय गान’ सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो, आपने देखा क्या?

बिहार के शिक्षा मंत्री डॉ. मेवालाल चौधरी 'राष्ट्रीय गान' भी नहीं गा सके, सोशल मीडिया पर लोग जमके चुटकी ले रहे हैं.

छपरा: बिहार विधानसभा चुनाव में नतीजों के बाद नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की अगुआई वाले एनडीए की एक बार फिर से बिहार में सरकार बन गई है. जनता दल यूनाइटेड (JDU) के अध्यक्ष नीतीश कुमार सातवीं बार मुख्यमंत्री बने है। आपको बता दें नीतीश कुमार लगातार चौथी बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। वही नीतीश कुमार के अलावा 14 मंत्रियों ने सोमवार को शपथ ली है।

वही शपत ग्रहण के साथ ही नीतीश सरकार में सभी मंत्रियों के बीच विभागों में बंटवारा हो गया है. आपको बता दें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पास गृह, सामान्य प्रशासन, मंत्रिमंडल सचिवालय, निगरानी और निर्वाचन विभाग के अलावा वे सभी विभाग रखे हैं. जो किसी को आवंटित नहीं किये गए हैं।

Education Minister Meva Lal Chaudhary

नीतीश मंत्रीमंडल का विस्तार होते ही विवाद शुरू हो गया। अब हाल ही का ताजा मामला बिहार में मंत्रियों की नियुक्ति को लेकर आया है। पहली बार मंत्री बनाए गए डॉ. मेवालाल चौधरी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। शिक्षा मंत्री मेवा लाल चौधरी एक कार्यक्रम में राष्ट्रगान गा रहे हैं, लेकिन वह उसे पूरा नहीं बोल सके।

वही इस वीडियो के सामने आते ही राष्ट्रीय जनता दल (JDU) ने इस कार्यक्रम का एक वीडियो अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा, भ्रष्टाचार के अनेक मामलों के आरोपी बिहार के शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी को राष्ट्रगान भी नहीं आता। नीतीश कुमार जी शर्म बची है क्या? अंतरा’त्मा कहाँ डुबा दी?

आपको बता दें राष्ट्रीय जनता दल द्वारा शेयर किये गए वीडियो में साफ-साफ यह दिख रहा है. कि शिक्षा मंत्री डॉ. मेवालाल चौधरी को राष्ट्रगान भी नहीं आता अब ऐसे सवाल यह उठता है की आखिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शिक्षा जैसा अहम विभाग को इनके हाथो कैसे सौंप दिया है।

खास बात यह है कि डॉ. मेवालाल चौधरी पहले भागलपुर विश्वविद्यालय के कुलपति रह चुके हैं. और उन पर अपने ही कार्यकाल के दौरान कई पदों पर हुई बहाली में बड़े पैमाने पर धां’ध’ली और पैसों के लेन-देन के आरोप लग चुके हैं। इस मामले में उनके खिलाफ एफआईआर भी हुई थी लेकिन बाद में उन्होंने कोर्ट से अंतरिम जमानत दे दी गई।