बीजेपी नेताओं के संरक्षण में पल रहा अ’परा’ध, बीजेपी जिला मंत्री ही निकला अप’हरणकर्ता मांगी थी एक करोड़ की फिरौती

यूपी में चल रहा क्रा’इम थमने का नाम नहीं ले रहा हैं. राम राज्य देने के वादे के साथ सत्ता में आई बीजेपी ने यूपी को जंग’लरा’ज में झौंक दिया हैं. जिन लोगों पर सत्ता है उसी पार्टी के लोग अप’राधों में लगे हुए? ताजा मामला कानपुर से सामने आया हैं. जहां बीजेपी के जिला मंत्री अप’राध में लि’प्त पाए गए हैं. बीजेपी जिला मंत्री सत्यम चौहान अपह’रण के मामले में गिरफ्तार किये गए हैं. लेकिन यह खबर राष्ट्रीय मीडिया से पूरी तरफ गायब हैं.

बताया जा रहा है कि मध्यप्रदेश के रहने वाले सुशील तिवारी जो पेशे से एक ज्योतिषाचार्य हैं. सुशील ने किसी ज्योतिष से सम्बंधित चमत्कारी बक्से को देखने की चाह में बीजेपी जिला मंत्री सत्यम चौहान से संपर्क किया था क्योंकि सुशील चमत्कारी और रहस्मयी वस्तुओं को देखने और उनके बार में जानने में दिलचस्पी रखते थे.

इसी दौरान यह तय हुआ कि सुशील कानपुर आकर सत्यम चौहान से मुलाकात करेगें. इसी उद्देश्य से सुशील एमपी से कानपुर देहात के अकबरपुर के नवीपुर आ पहुंचे.

यहां पहुंच कर वो एक निजी होटल में रुक गए और अपने आने की खबर और अपना पता बीजेपी नेता को दे दिया. जैसे ही बीजेपी नेता सत्यम चौहान को सुशील तिवारी के पहुंचने की जानकारी प्राप्त हुई वो कुछ देर बाद ही अपने साथियों के साथ सुशील तिवारी ज्योतिषाचार्य के पास पहुंचा.

चौहान ने अपने पद और पॉवर का उपयोग करके सुशील का अपहरण कर लिया. इसके बाद तिवारी की पत्नी उन्हें कई बार कॉल करने की कोशिश करती रही लेकिन सुशील तिवारी ज्योतिषाचार्य का फोन लगातार बंद आता रहा.

लगातार फोन बंद आने से सुशील तिवारी की पत्नी को चिंता में आ गई. लेकिन फिर कुछ समय बाद सुशील तिवारी की पत्नी को एक कॉल प्राप्त हुआ, इस कॉल के जरिए बीजेपी जिला मंत्री और उसके साथियों ने तिवारी को जिं’दा छोड़ने के बदले में करोड़ों रुपए की मांग की.

फोन कॉल के बाद सुशील तिवारी की पत्नी को सारा माजरा समझ आ गया और उन्होंने बिना देर कर तुरंत मध्य प्रदेश पुलिस के पास शिकायत की और उन्हें पूरी जानकारी दी. जिसके बाद मध्य प्रदेश पुलिस ने कानपुर पुलिस से संपर्क साधा और कानपुर पुलिस ने सिर्फ 36 घंटे में बीजेपी जिला मंत्री और उसके साथियों को दबोच लिया.

साभार- न्यूज़18