शिवराज के रिश्तेदार हुए बागी, कांग्रेस में शामिल होने की की तैयारी बीजेपी की उड़ी नींद

मध्यप्रदेश में चुनावी बिगुल बज चूका है इसके साथ ही राज्य में प्रचार प्रसार भी जोर शोर से शुरू हो चूका है. चुनावी तैयारियों के बीच बीजेपी को एक बड़ा झटका लगा है. दरअसल बीजेपी के बड़े नेता ने बीजेपी का साथ छोड़ दिया है जो राज्य की सत्ताधारी बीजेपी के लिए एक करारा झटका है. इससे पहले ही कई बीजेपी नेताओं ने बीजेपी को छोड़ दूसरी पार्टियों की और कदम बढाए है. आपको बता दें कि मध्यप्रेदश में 28 नवंबर को विधानसभा चुनाव होने हैं.

बीजेपी के मौजूदा विधायक संजय शर्मा और पूर्व विधायक कमलापत आर्य ने बीजेपी छोड़ कांग्रेस का थामन थम लिया है. मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी की उपस्थिति में इन्दौर में यह दोनों बड़े बीजेपी नेता कांग्रेस में शामिल हुए. इसकी जानकारी कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर दी है.

वहीं दूसरी तरफ किरार समुदाय के वरिष्ठ नेता और सूबे के मुख्यमंत्री शिवराज सिहं चौहान के रिश्तेदार गुलाब सिंह किरार के कांग्रेस पार्टी में सम्मिलित होने को लेकर असमंजस की स्थिति बनी रही. प्रदेश कांग्रेस ने अपने टिवटर हैंडल (आईएनसीएमपी) पर फोटो के साथ ट्वीट करते हुए किरार के पार्टी में शामिल होने का ऐलान किया.

लेकिन इस ट्विट को बाद में हटा दिया गया. वहीँ सोशल मीडिया पर चल रही खबरों को प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने खा!रिज किया. सोशल मीडिया पर खबर दी कि गुलाब सिंह किरार ने भी राहुल की मौजूदगी में कांग्रेस का दामन थामा लेकिन इसे ख़ारिज कर दिया गया.

कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल के जरिए बताया कि नरसिंहपुर जिले की तेंदूखेड़ा विधानसभा सीट से विधायक संजय शर्मा और दतिया जिले की भांडेर विधानसभा सीट से पूर्व विधायक कमलापत आर्य दोनों ने भारतीय जनता पार्टी को छोड़ते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की उपस्थिति में इन्दौर में कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की.

इस खबर को लेकर कांग्रेस के मीडिया सेल के उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने भी शर्मा और आर्य के कांग्रेस में शामिल होने की पुष्टि की वहीं उन्होंने किरार को लेकर कोई भी जानकारी देने से मना कर दिया. बता दें कि शर्मा और आर्य बीजेपी में जाने से पहले कांग्रेस में ही थे जो पिछले बार बीजेपी के टिकट से विधायक भी बने.

वहीं दोनों वरिष्ठ नेताओं के बीजेपी छोड़ने को लेकर बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि बीजेपी को इससे कोई असर नहीं पड़ेगा. हम एक बार फिर से भारी बहुमत के साथ विधानसभा चुनाव जीतेगे और चुनावों से पहले तो यह होता रहता है.