भाजपा में मची तकरार, तजिंदर बग्गा ने बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी को बताया गद्दार, ओए! तू गद्दार है…

अपने बयान के कारण फिर सवालों से घिरे भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी, पार्टी के नेता तजिंदर बग्गा ने कहा गद्दार.

भारतीय जनता पार्टी के नेताओं में फूट पड़ती हुई नजर आ रही है। ऐसा इसलिए क्योंकि भाजपा नेता तजिंदर बग्गा ने ट्वीट कर अपनी ही पार्टी के राज्यसभा सांसद और तीन बार के लोकसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी को गद्दार कह कर संबोधित किया है। वैसे तजिंदर बग्गा पिछले कई महीनों से स्वामी के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। लेकिन हद तो तब हो गई जब बग्गा ने ट्वीट कर सीधा स्वामी को ही गद्दार कह दिया।

दरअसल मामला यह है कि नए संसद भवन के निर्माण से जुड़ा हुआ है और इसके निर्माण की जिम्मेदारी टाटा समूह (टाटा प्रोजेक्ट्स) को दी गई है, जिसपर भाजपा के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने सवाल उठाये हैं। सुब्रमण्यम स्वामी ने इसमें यूपीए सरकार के 2G स्पैक्ट्रम घोटाले का जिक्र करते हुए ट्वीट किया है।

bagga

सुब्रमण्यम स्वामी ने संदेह व्यक्त करते हुए कहा कि कहीं नए संसद भवन के निर्माण के ठेके में 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले जैसा तो कुछ नहीं हुआ है? भाजपा नेता स्वामी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि- “क्या किसी को जानकारी है कि संसद परिसर के निर्माण के लिए टाटा समूह को कैसे चुना गया था? क्या इसके लिए निविदा आमंत्रित की गई थी या फिर इसे 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले की तरह पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दे दिया गया?

हालाँकि यह पहली दफा नहीं है कि जब सुब्रमण्यम स्वामी ने मोदी सरकार के खिलाफ बोला है, इससे पहले राम मंदिर पर जब सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया था तब भी मोदी सरकार के खिलाफ बयान दिए थे।

इसके अलावा नीट परीक्षा को लेकर भी स्वामी ने सरकार के विरोध में बयान दिए थे। और संभवत यही कारण रहा होगा कि तजिंदर बग्गा जैसे बीजेपी नेता ने सुब्रमण्यम के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। स्वामी ने हाल ही में भाजपा आईटी सेल के चीफ अमित मालवीय को पद से हटाने की मांग कर डाली थी।

तथा इससे पहले भी बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम से एक ट्विटर यूजर अमन प्रीत उप्पल ने जब यह कहा कि वह आम आदमी पार्टी के पक्ष में मतदान करें तो इसके पश्चात सुब्रमण्यम स्वामी ने जवाब दिया कि- मेरे समर्थन के बिना भी आम आदमी पार्टी और झाडू को काफी वोट मिल रहे हैं।

विशेष तौर पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट के बाद जो गुगली फेंकी है, उसके बाद मुझे अपने भाजपा के कार्यकर्ताओं के साथ खड़ा होना ही चाहिए।

इस ट्वीट के बाद भी लोगों ने सुब्रमण्यम स्वामी की छुट्टी लेते हुए कई तंज कसे और कहा कि- आप भाजपा के साथ हैं या आम आदमी पार्टी का सपोर्ट कर रहे हैं! लगता है आप एक तीर से दो निशाने लगा रहे हैं।