VIDEO: शर्मनाक, उपवास से पहले खाना खाते पकड़े गए बीजेपी नेता, पोल खोलने वाले पत्रकार पर गिरी गाज

उपवास के पहले भाजपा सांसद और विधायक ने खाया खाना, वायरल हुआ वीडियो तो दी सफाई

नेताओं के अजीबोगरीब कारनामे अक्सर चर्चा का विषय बनते हैं। नेता जनता को लुभाने के लिए क्या कुछ नहीं करते नेताओं के ज्यादातर कार्य ऐसे होते हैं जिनसे वह जनता के बीच में अपनी एक बेहतर छवि बना सकें लेकिन कभी-कभी ऐसे कामों के बीच उनकी पोल खुल जाती है। हाल ही में ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें बीजेपी नेताओं की सच्चाई सबके सामने आ गई है।

यही नहीं बीजेपी नेताओं की सच्चाई सामने आने के बाद भी उनका रौब नहीं गया और उन्होंने सच्चाई लाने वाले पत्रकार के खिलाफ केस दर्ज करवा दिया. बता दें कि देश में इस वक्त किसान आंदोलन चल रहा है देश भर के किसान पिछले 25 दिन से केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि अध्यादेशों के खिलाफ विरोध प्रकट कर रहे हैं।

उपवास करने से पहले खाना खाते नजर आए बीजेपी नेता:-

BJP mp and mla

ऐसे में भाजपा नेता जनता का ध्यान किसान आंदोलन से हटाकर कहीं और लगाने के लिए तरह-तरह के ह’थकंडे अपना रहे हैं। इससे पहले भी भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने किसान सम्मेलन का आयोजन किया था जिसका पता जब किसानों को लगा तो किसानों ने उनके तंबू उखाड़ दिए और भगा दिया लेकिन अब एक बार फिर से बीजेपी नेता ऐसा ही कुछ करते दिखे लेकिन इस बार पकड़े गए।

 

बता दें कि किसान आंदोलन के चलते हुए हरियाणा सरकार पर कई तरह के आरोप लग रहे हैं इसके चलते भाजपा के नेता किसान आंदोलन से लोगों का ध्यान हटाने के लिए नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं।

जानकारी के अनुसार सतलुज यमुना लिंक नहर मुद्दे पर भाजपा के कुछ नेताओं ने उपवास रखने का ऐलान किया लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो ने उनके इस ऐलान से पहले ही उपवास की पोल खोल दी. सतलुज यमुना लिंक नहर मुद्दे पर उपवास रखने वाले भारतीय जनता पार्टी के नेता इस वीडियो में खाना खाते नजर आ रहे थे. ऐसे में अब उपवास रखने से पहले खाना खाते बीजेपी नेताओं पर जमकर सवाल उठ रहे हैं।

वीडियो पब्लिश करने वाले पत्रकार के खिलाफ केस दर्ज:-

बता दें कि अपने उपवास कार्यक्रम की पोल खुलने के बाद जब बीजेपी नेताओं से यह सहन नहीं हुआ तो उन्होंने वीडियो जारी करने वाले पत्रकार के खिलाफ केस दर्ज कर दिया. बीजेपी नेताओं का यह वीडियो एक वेव चैनल के पत्रकार राजेंद्र स्नेही ने सोशल मीडिया पर शेयर किया था जिसके बाद अब यह जमकर वायरल हो रहा है।

वहीं वीडियो में उपवास से पहले खाना खाते नजर आ रहे भारतीय जनता पार्टी के नेता ,कुरुक्षेत्र के सांसद नायब सिंह सैनी और थानेसर के विधायक सुभाष सुधा ने अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज कर दिया । उनका कहना है कि उपवास से पहले वे एक धार्मिक कार्यक्रम में पहुंचे थे जहां पर उन्होंने खाना नहीं बल्कि सिर्फ प्रसाद खाया था।

पत्रकार राजेंद्र स्नेही के खिलाफ दर्ज मामले पर कुरुक्षेत्र पुलिस ने बताया कि थानेसर बाजार के पूर्व अध्यक्ष सुरेश सैनी ने पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है वहीं उनका यह भी आरोप है कि पत्रकार राजेंद्र स्नेही ने उनके खिलाफ फर्जी खबरें चलाई है।