लॉ की छात्रा से दु’ष्क’र्म का आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद को 5 महीने बाद इलाहाबाद हाई कोर्ट ने..

भाजपा का पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर उनके हे महाविद्यालय मे पड़ने वाली एक छात्रा से दु’राचा’र के मामले मे उन्हें इलहाबाद हाई कोर्ट ने सोमबार को जमानत दे दी है। चिन्मयानंद शाहजहांपुर जेल मे पिछले 135 दिनों से बंद था। चिन्मयानंद की जमानत याचिका पर दो महीने पहले सुनवाई हुई थी, तब हाई कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था पिछले महीने ही चिन्मयानंद के वकील ने उनके खराब स्वस्थ्य का हवाला देते हुए उनकी जमानत की मांग की अर्जी दाखिल की थी।

आपको बता दें पिछले साल 24 अगस्त को पी’ड़ित लॉ की छात्रा ने एक वीडियो वायरल कर चिन्मयानंद पर उसका शा’रीरिक रूप से शो’षण और कई लड़कियों की जिंदगी खराब करने का आरोप लगाया था। इसके बाद छात्रा कई दिनों तक गायब रही थी. फिर उसे पुलिस ने राजस्थान से पकड़ा था।

पी’ड़ित छात्रा चिन्मयानंद से 5 करोड़ रुपये की फिरौती मांगने के आरोप में हुई थी गिरफ्तार

इस मामले मे पी’ड़ित छात्रा के पिता ने चिन्मयानंद पर अ’पहर’ण और जा’न से मा’रने की धाराओं पर चिन्मयानंद के खिलाफ थाने मे मामला दर्ज कराया था। वहीँ दूसरी ओर स्वामी चिन्मयानंद ने छात्रा और उसके दोस्तों पर ब्लेकमेलिं’ग करने का आरोप लगाया था। लॉ छात्रा ने 12 पन्नों की शिकायत और SIT को दिए बयान में कई चौंका देने वाली बातें सामने आई हैं। पी’ड़िता का कहना है कि चिन्मयानंद ने ब्लैकमे’ल कर दु’ष्क’र्म किया है।

दु’ष्क’र्म का आरोप लगाने वाली लड़की ने घर पास में होने के बावजूद हॉस्टल में रहने के पीछे कारणों का खुलासा किया था. उसने बताया था कि वह एलएलएम में एडमीशन लेने के लिए गई था लेकिन चिन्मयानंद ने उसे नौकरी दे दी नौकरी में काम का ज्यादा बोझ होने के कारण उसे हॉस्टल में रहना पड़ा जहां उसके साथ गलत हुआ।

23 वर्षीय पी’ड़ित लॉ छात्रा को भी चिन्मयानंद से 5 करोड़ रुपये की फिरौती मांगने के आरोप में गिरफ्तार कर ली गई थी. इसके बाद उसे दिसंबर में जमानत पर रिहा कर दिया गया. चिन्मयानंद ने आरोप लगाया था कि लॉ छात्रा और उसके दोस्तों ने कुछ वीडियो क्लिप सार्वजनिक करने की ध’मकी दी थी, जिसमें वह छात्रा से मसाज कराते हुए दिख रहे हैं।

Leave a Comment