कोरोना संकटः यूपी भाजपा विधायक ने कहा- कोई भी न खरीदे मुसलमानों से सब्जी, पार्टी का आया जवाब

Coronavirus: पूरा देश एकजुट होकर कोरोना वायरस से संघर्ष कर रहा है. देश का हर नागरिक सरकार के बताए गाइडलाइंस के मुताबिक नियमों का पालन कर रहा है लेकिन इस एकता को तोड़ने का प्रयास सरकार के ही बेलगाम नेता और मीडिया वाले कर रहे हैं. आज देश के अधिकांश लोग न्यूज चैनलों और उनके पत्रकारों का नाम सामने आते ही उन्हें कोसना शुरु कर देते हैं. क्योकि ये लोग ही देश के असल दुश्मन हैं।

कोरोना जैसी आपदा में भी बीजेपी नेताओं द्वारा सां’प्रदायिकता फैलाने वाले बयान देने से बाज नहीं आ रहे है. अब उत्तर प्रदेश से भाजपा विधायक सुरेश तिवारी ने देवरिया जिले के लोगों से कहा है कि वे मुसलमान विक्रेताओं से सब्जियां य फल न खरीदें. जिले के बरहज विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक को सोशल मीडिया में वायरल हो रहे एक वीडियो में ये बात कहते हुए सुना गया है।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, देवरिया के बरहज विधानसभा क्षेत्र से विधायक सुरेश तिवारी की यह टिप्पणी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है. विधायक कुछ सरकारी अधिकारियों के साथ खड़े होकर वो लोगों से कह रहे हैं, एक बात दिमाग में बैठा लो, मैं सभी को खुले तौर पर बता रहा हूं, कोई भी मुस्लिमों से सब्जियां न खरीदें।

हलाकि इस मामले पर जब विधायक से बात की गई तो उन्होंने कहा कि यह टिप्पणी पिछले हफ्ते बरहज नगर पालिका के दफ्तर के दौरे के दौरान की थी, जहां कई सरकारी अधिकारी मौजूद थे. ऐसी शिकायतें सुनने के बाद कि एक समुदाय के लोग कोरोना वायरस फैलाने के उद्देश्य से लार से दूषित करके सब्जियां बेच रहे हैं, मैं उन्हें सलाह दी कि वे उनसे सब्जियां न खरीदें।

विधायक ने दावा किया कि उन्होंने केवल अपनी सलाह दी है और यह लोगों पर निर्भर करता है कि वे उसका पालन करते है या नहीं बता दें पिछले महीने दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए तबलीगी जमात मरकज का उदाहरण देते हुए तिवारी ने कहा, हर कोई देख सकता है कि जमात के सदस्यों ने देश के साथ क्या किया है।

वही वीडियो वायरल होने के बाद प्रदेश भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि पार्टी ऐसे बयानों का समर्थन नहीं करती है. पार्टी इस मामले का संज्ञान लेगी और तिवारी से पूछेगी कि उन्होंने किन परिस्थितियों में ऐसी टिप्पणी की उनसे बात की जाएगी।

Leave a Comment