भाजपा ने केरल के इतिहास में पहली बार दो मुस्लिम महिलाओं को अपना चुनावी उम्मीदवार घोषित किया

भास्कर/केरल: अक्सर हिंदूवादी विचारधारा के साथ जोड़े जाने वाली पार्टी भारतीय जनता पार्टी (BJP) का केरल में एक अलग ही चेहरा सामने आया है, जब इसने केरल के इतिहास में पहली बार अपने चुनावी उम्मीदवार के रूप में दो मुस्लिम महिलाओं को टिकट दे दिया.

दरअसल केरल राज्य में स्थानीय निकाय चुनाव होने जा रहे हैं, जिसमे सभी पॉलिटिकल पार्टियां अपने-अपने उम्मीदवार घोषित कर रही हैं. ऐसे में भाजपा ने भी इन चुनावों में दो मुस्लिम महिलाओं को अपना उम्मीदवार घोषित करके सबको हैरत में डाल दिया.

Keral Me Muslim Mahila BJP Candidates

आपको बता दें कि यह केरल के चुनावी इतिहास में यह पहली बार ऐसा हुआ है, जब भाजपा पार्टी ने मुस्लिम महिलाओं को अपना उम्मीदवार चुना है.

कौन हैं ये दो मुस्लिम महिलाएं जो केरल से भाजपा उम्मीदवार हैं

पार्टी ने मल्लपुर जिले में वंडूर निवासी टी पी सुल्फात को वंडूर ग्राम पंचायत से वहीं चेमपड निवासी आएशा हुसैन को पोनमुडाम ग्राम पंचायत से चुनावी मैदान में उतारा है. वहीं पार्टी के अन्य कार्यकर्ताओं का कहना है कि पार्टी का यह कदम उनके लिए उत्साहवर्धक है और पार्टी की नई सोच की तरफ इशारा करता है.

वहीं चुनाव मैदान में उतरी दोनों महिलाएं भी इस कदम से काफी उत्साहित हैं. भाजपा से चुनाव में उतरी सुल्फात का कहना है कि वह केंद्र में भाजपा सरकार की नीतियों से काफी प्रभावित हैं.

उन्होंने यहाँ तक कहा कि मुस्लिम महिलाओं के कल्याण के लिए भाजपा सरकार ने बड़े कदम उठाए हैं और यह सिर्फ मोदी कर सकते हैं. वहीं आयशा कहती हैं कि उनके पति भाजपा में हैं इसलिए वे भी भाजपा से ही चुनाव लड़ रही हैं.