बलिया मामले को लेकर बीजेपी अध्यक्ष ने अपनी ही पार्टी के विधायक सुरेंद्र सिंह को दी चेतावनी, देखिये क्या कहा?

भारतीय जनता पार्टी के बलिया में पिछले हफ्ते सामने आए मामले को लेकर लगातार राजनीति की जा रही है. एक बीजेपी नेता द्वारा सरेआम एक शख्स को गो’ली मा’रकर ह’त्या करने का मामला सूबे ही नहीं बल्कि देश भर में चर्चा का विषय बना हुआ है. इस मामले को लेकर बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह आ’रोपी का बचाव करते हुए लगातार बयानबाजी कर रहे है. वहीं कांग्रेस बीजेपी विधायक पर हम’लावर होती जा रही है.

कांग्रेस जांच को प्रभावित करते का प्रयास कर रहे बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह पर निशा’ना साध रही है. इसी को देखते हुए अब बीजेपी ने अपने विधायक को फ’टकार लगाई है. बीजेपी ने विधायक पर सख्ती दिखाई है.

Surendra Narayan

सूत्रों के हवाले से खबर है कि भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को इस मामले को लेकर फोन किया था. इस दौरान नड्डा ने बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह के व्यवहार को लेकर चेतावनी देते हुए कड़ी आपत्ति जाहिर की हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जेपी नड्डा ने स्वतंत्र देव सिंह को विधायक सुरेंद्र सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश भी दिये है. नड्डा ने कहा है कि बलिया घ’टना की जांच में बीजेपी विधायक सिंह समेत कोई भी बीजेपी नेता किसी भी तरह का दखल देने का प्रयास ना करें.

अगर कोई भी जांच को प्रभावित करने का प्रयास करता है तो पार्टी उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी. आपको बता दें कि बलिया के दुर्जनपुर गांव में पिछले हफ्ते ही दो पक्षों के बीच वि’वाद के बाद गो’लियां चल गई थीं. जिसमें एक अधे’ड़ की मौ’त हो गई थी.

वहीं गो’ली चलाने का मुख्य आ’रोपी धीरेंद्र सिंह है जो बीजेपी का कार्यकर्ता है और वो घट’ना के बाद से ही फरार चल रहा था. हालांकि रविवार को पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है. धीरेंद्र सिंह बीजेपी विधायक सुरेन्द्र सिंह का करीबी बताया जा रहा है.

इसी मसले पर लगातार राजनीति चल रही है. एक तरफ जहां बलिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने आ’रोपी पक्ष का बचाव करते हुए बयान देना शुरू कर दिया है. वहीं कांग्रेस बीजेपी पर आरो’पी को बचाने का आरो’प लगा रही है.

सुरेंद्र सिंह ने आरो’पी का पक्ष देते हुए कहा था कि आरोपी उनका सहयोगी है और उसने अपनी आ’त्मरक्षा में गो’ली चलाई. उन्होंने थाने का घेरा’व करने और सत्याग्रह करने की बात भी कही थी. उन्होंने कहा कि मैं विधायक रहूं या नहीं रहूं स्वाभिमान और संस्कृति की रक्षा जरूर करूंगा.

साभार- एनडीटीवी