बीजेपी नेता का असली चेहरा आया सामने, नक्सलियों को ट्रैक्टर की आपूर्ति करते पकड़े गए बीजेपी नेता समेत दो लोग

भारतीय जनता पार्टी का दोहरा चेहरा सामने आया हैं. एक तरफ तो बीजेपी न’क्स’लवाद मिटाने की बड़ी-बड़ी बातें करती हैं वहीं दूसरी तरफ बीजेपी के ही नेता न;क्स’लवा’द को बढ़ावा देने के लिए चोरी-छुपे उनकी मदद करते हैं. ऐसा ही नया मामला छत्तीसगढ़ में सामने आया है. जहां बीजेपी नेता समेत दो लोगों को न’क्सलि’यों की मदद करने के लिए गिरफ्तार किया गया हैं. इन लोगों पर न’क्सल’वादियों को टैक्टर आपूर्ति करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में पुलिस के ह’त्थे एक गैंग चढ़ी जो न’क्सलि’यों की मदद करती थी. इन लोगों में एक वरिष्ठ बीजेपी नेता भी शामिल हैं. नक्सलियों के लिए ट्रैक्टर सप्लाई करने के आरोप में भारतीय जनता पार्टी के जिला उपाध्यक्ष जगत पुजारी सहित दो नक्सली मददगारों को पुलिस ने गिरफ्तार किया हैं.

बीजेपी नेता जगत पुजारी और उनके साथी इंद्रावती एरिया कमेटी में सक्रीय 5 लाख रुपए के इनामी न’क्सल’वादी अजय अलामी जनमिलिशिया कमांडर को ट्रैक्टर सप्लाई करते हुए रंगे हाथों धरे गए हैं. पुलिस के अनुसार यह लोग माओवादियों को पिछले 10 साल से सामान सप्लाई कर रहे हैं.

वहीं पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है और पुलिस को इससे भी बड़े कई खुलासे होने की संभावनाएं हैं. दन्तेवाड़ा पुलिस ने इस कार्रवाई को अपनी बड़ी कामयाबी बताई हैं.

आपको बता दें कि पिछले महीने ही सुरक्षाबलों ने छत्तीसगढ़ में चार न’क्स’लि’यों को मा’र गिराया था. सूबे के न’क्स’ल प्रभावित राजनांदगांव जिले में सुरक्षा बलों के साथ मु’ठभेड़ के दौरान दो महिला न’क्स’लियों समेत चार न’क्स’ली मा’रे गए थे.  वहीं इस एनका’उंटर के दौरान एक पुलिस उप निरीक्षक (एसआई) श’हीद हो गए थे.

इसे लेकर दुर्ग क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक विवेकानंद सिन्हा ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया था कि राजनांदगांव जिले के मानपुर थाना क्षेत्र में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ के दौरान चार न’क्स’ली मा’रे गए थे जिनमें दो महिलाएं भी शामिल थी.

इस घटना के दौरान मदनवाड़ा थाना प्रभारी एवं पुलिस उप निरीक्षक श्याम किशोर शर्मा शही’द हो गए हैं. छत्तीसगढ़ के कई इलाकों में न’क्सल’वाद ने अपने पैर जमा रखे हैं जो इस तरह के नेताओं की मदद से ही फल और फूल रहे हैं. यह मामला दिखता है कि कुछ नेता इसे बढ़ावा देने के लिए उनकी मदद करते हैं.

आपको बता दें कि इससे पहले मार्च में ही न’क्सलियों ने सुरक्षा बालों को क्षति पहुंचाई थी. छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में हुई मु’ठभेड़ के दौरान 17 जवान शही’द हो गए थे. सुकमा के चिंतागुफा थाना क्षेत्र के कसालपाड़ और मिनपा के बीच सुरक्षाबल के जवानों पर नक्सलियों ने हम’ला कर दिया था.