बीजेपी से साठगांठ का आरोप लगने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे से मिले अभिनेता सोनू सूद

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने बॉलीवुड सुपरस्टार और लॉकडाउन में प्रवासियों के मसीहा साबित हो रहे सोनू सूद की तारीफों के पूल बांधे. बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद लॉकडाउन के दौरान महाराष्ट्र में फंसे प्रवासी कामगारों और स्टूडेंट्स के लिए बसों की व्यवस्था करा रहे हैं. वह अब तक हजारों कामगारों को अपने घर पहुंचा चुके है. उनके इस काम की सीएम उद्धव ठाकरे ने रविवार को जमकर प्रसंशा की हैं.

ठाकरे की निवास मातोश्री पर उनसे मुलाकात करने के लिए अभिनेता सोनू सूद पहुंचे थे. दरअसल यह मुलाकात शिवसेना द्वारा अभिनेता पर किये गए तीखे हमले के बाद की गई. रविवार की सुबह शिवसेना ने सोनू सूद पर निशाना साधा था.

 

सोनू सूद द्वारा मुंबई में फंसे प्रवासियों को वापस भेजने के लिए लगातार बसों की व्यवस्था करने के मुद्दे को लेकर शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने सोनू सूद के इरादों पर सवालिया निशान लगाया था.

रविवार को संजय राउत ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि कहीं लॉकडाउन के चलते महाराष्ट्र में फंसे उत्तर भारतीय प्रवासियों कामगारों को सोनू सूद द्वारा सहायता की पेशकश करने के पीछे बीजेपी का अंदरुनी रुप से समर्थन हासिल तो नहीं था? कहीं इसके पीछे राज्य की उद्धव ठाकरे सरकार को बदनाम करने की साजिश तो नहीं थी?

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के साप्ताहिक कॉलम में राउत ने लॉकडाउन के दौरान अचानक महात्मा सूद के सामने आने पर सवाल खड़ा किया हैं. इसके आलावा उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले सामने आए सोनू सूद के एक स्टिंग ऑपरेशन का भी इसमें हवाला दिया हैं.

उन्होंने कहा हैं कि वह बीजेपी नीत सरकार के कार्यों को अपने आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए विभिन्न प्लेटफॉर्म पर प्रचार करने के लिए तैयार हो गए थे.

वहीं रविवार देर रात हुई इस मुलाकात के बाद आदित्य ठाकरे ने ट्वीट किया कि रविवार शाम सीएम उद्धव जी और मंत्री असलम शेख के साथ सोनू सूद मुझसे मिले. हमें जरूरतमंद लोगों के लिए साथ आने की जरूरत हैं. आम लोगों की मदद कर रहे ऐसे अच्छे इंसान से मिल कर अच्छा लगा.

वहीं सीएम उद्धव ठाकरे और मंत्री आदित्य ठाकरे से मुलाकात के बाद सोनू ने कहा कि जब तक आखिरी प्रवासी अपने घर नहीं पहुंच जाता तब तक मैं अपना काम जारी रखूंगा. कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक हर सियासी दल मेरा समर्थन कर रहे हैं और मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं. हर देशवासी को कोरोना लॉकडाउन में फंसे और जरूरतमंद लोगों को मदद मुहैया करना चाहिए.

साभार- जनसत्ता