निकाय चुनाव: गुजरात में बीजेपी को मिली शानदार जीत, कांग्रेस की कोशिश भी अच्छी रही

Gujarat Nikay Chunav 2021 Results: गुजरात नगर निकाय चुनाव के नतीजों के लिए वोटों की गिनती जारी है। अभी तक के आए नतीजों में बीजेपी ने 294 सीटों पर जीत दर्ज की है जबकि कांग्रेस के खाते में 37 सीटें गई हैं.

हैदराबाद जम्मू-कश्मीर और पंजाब नगर निकाय चुनाव में करारी हार का सामना करने के बाद अब गुजरात में भारतीय जनता पार्टी को थोड़ी राहत मिली है. हैदराबाद जम्मू-कश्मीर और पंजाब नगर निकाय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को करारी हार मिली थी जिसके बाद सभी की नजर गुजरात में होने वाले नगर निकाय चुनावों पर टिकी थी।

बता दें हाल ही में गुजरात में नगर निकाय चुनाव हुए हैं जिनके वोटों की गिनती चल रही है। ऐसे में अब तक के आए परिणामों के अनुसार भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात के अंदर शानदार प्रदर्शन करती हुई दिखाई दे रही है।आपको बता दें अभी तक के आए चुनावी नतीजों के अनुसार भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात ने 294 सीटें जीत चुकी हैं।

बीजेपी के नेताओं ने दी बधाई तो कांग्रेस नेता ने दिया इस्तीफा

वही एक और जहां इस बार भारतीय जनता पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया है तो कांग्रेस महज 37 सीट ही जीत सकी जानकारी के अनुसार इस बार असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन भी चुनावी मैदान में उतरी है।

ऐसे में अगर हम हाल तक के चुनावी नतीजों की बात करें तो इस बार सूरत शहर में 120 सीटों पर चुनाव हुआ जिसमें से अभी तक 107 सीटों के नतीजे सामने आ चुके हैं। 107 सीटों में से 84 सीट बीजेपी के खाते में गयीं तो यहां पर आम आदमी पार्टी को 23 सीटें मिली । दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी सूरत में अभी तक खाता भी नहीं खोल सकी है।

वहीं गुजरात की एक बड़ी सिटी अहमदाबाद में भारतीय जनता पार्टी ने 57 सीटें जीत ली है तो राजकोट में 51 सीटों पर जीत दर्ज की है। चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार इस बार अहमदाबाद में सबसे कम 42.5 प्रतिशत और जामनगर में सबसे ज्यादा 53.4 प्रतिशत मतदान हुआ है।

बता दें गुजरात में हुए नगर निकाय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने बंपर जीत हासिल की है जिसके बाद गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने मतदाताओं को भारतीय जनता पार्टी पर विश्वास दिखाने के लिए धन्यवाद दिया है। साथ ही मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि मतदाताओं के इस विश्वास को साबित करने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे, एंटी इनकंबेंसी गुजरात में लागू नहीं होती है।

एक ओर जहां भारतीय जनता पार्टी के नेता जीत पर मतदाताओं को बधाई दे रहे हैं तो दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी के नेता इस्तीफा देने लगे हैं। गुजरात में कांग्रेस पार्टी के खराब प्रदर्शन की वजह से शहर के कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष बाबू रायका ने इस्तीफा दे दिया।

पुणे (महाराष्ट्र) की रहने वाली 'बुशरा त्यागी' पिछले 5 वर्षों से एक Freelancer न्यूज़ लेखक (Writer) के तौर पर कार्य कर रही हैं। 16 साल की उम्र से ही इन्होंने शायरी, कहानियाँ, कविताएँ और आर्टिकल लिखना शुरू कर दिया था।