CAA विरोध: मशहूर शायर मुनव्वर राना की दोनों बेटियों समेत 12 महिलाओं के खिलाफ मुकदमा

उत्तर प्रदेश: लखनऊ में CAA कानून का विरोध करने पर मशहूर शायर मुनव्वर राना की दोनों बेटियों पर मुकदमा दर्ज किया गया है. इनके अलावा 12 अन्य अज्ञात महिलाओं के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया है. इन सभी महिलाओं पर आरोप है कि लखनऊ में धारा 144 लागू होने के बावजूद नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हो रहे प्रदर्शन में शामिल थीं.

इस नागरिकता कानून के मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस ने तीन मुकदमें दर्ज किए हैं, जिनमें से एक केस यह है. मशहूर शायर मुनव्वर राना की दोनों बेटियों समेत कुछ 1 दर्जन अज्ञात महिलाओं पर भी मुकदमा दर्ज हुआ है. बेटियों पर एफआईआर होने के बाद मुनव्वर राना को काफी ठेस पहुंची है.

मुझ पर मुकदमा दर्ज करो, मैंने ऐसी बागी बेटियां पैदा कीं हैं

Munawwar Rana Ki Betiyon par case darj

नागरिकता कानून का विरोध, धारा 144 के बावजूद करने पर मुनव्वर राना अपनी दोनों बेटियों पर कहते हैं, तुम्हें मुझ पर मुकदमा दर्ज करना चाहिए, मैंने ऐसी बाग़ी बेटियां पैदा की हैं. यह शब्द मुनव्वर राना ने एक टीवी चैनल से बातचीत करते हुए कहे.

मुन्नवर राना बोले, नागरिकता कानून को लेकर, जो ये लड़कियां और महिलाएं प्रदर्शन कर रही हैं, उनके पास न तो कागज हैं, न ही घर है और न ही छत है. सभी डर के से में जी रहे हैं. अगर हमसे नागरिकता मांगी जायेगी तो हम कहाँ से कागज दिखायेंगे?. और अगर हम न दिखा पाय तो हमें देश से निकाल दिया जायेगा.

धारा 144 के उल्लंघन के चलते, अमित शाह पर भी केस दर्ज हो

इसके बाद मुन्नवर राना ने ये भी कहा, अगर लखनऊ में धारा 144 लगी है, तो गृहमंत्री अमित शाह इधर क्या कर रहे हैं. उन्होंने भी इस धारा 144 के दौरान  को संबोधित किया है, क्या उन पर भी केस दर्ज नहीं होना चाहिए?.

Amit Shah At Uttar Pradesh

मुन्नवर राना बोले कि, यहां की सरकार लोगों से कहती है. उत्तर प्रदेश उत्तम प्रदेश है. यहां सब कुछ ठीक है. मुझे बताओ अगर यहां सब कुछ ठीक है, तो धारा 144 को किस वजह से लगाया गया है.

नागरिकता संशोधन कानून का विरोध तो उसके कानून बन्ने से पहले से ही चल रहा है, और इसके विरोध को रोकने के लिए ही शहर में धारा 144 लगाई गई है. उन्होंने कहा कि जब शहर में धारा 144 का उल्लंघन हुआ है तो अमित शाह पर भी केस दर्ज होना चाहिए.

Leave a Comment