चेतन भगत बोले फाइजर वैक्सीन है बेस्ट, तो कंगना रनौत आधी रोटी पर दाल लेने पहुँच गयीं

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए टीकाकरण भी बड़ी मात्रा में किया जा रहा है। सरकार ने वैक्सीन लगवाने वालों की न्यूनतम आयू 18 वर्ष तक तय कर दी है। इस बीच मशहूर लेखक चेतन भगत का ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब सुर्खियां बटोर रहा है, जिसमें वह फाइजर और मॉडर्ना वैक्सीन को बेस्ट बताते हुए दिखाई दे रहे हैं।

चेतन भगत के इस ट्वीट को लेकर एक्ट्रेस कंगना रनौत उनपर भड़की हुई नजर आईं। हम बेस्ट के लायक नहीं हैं: चेतन भगत ने अपने ट्वीट में फाइजर और मॉडर्ना वैक्सीन की तारीफ करते हुए लिखा, “फाइजर और मॉडर्ना वैक्सीन बेस्ट वैक्सीन हैं। वह दिसंबर 2020 में ही बनकर तैयार हो गई थीं, तो भारत में उसे अभी तक क्यों नहीं लाया गया है? क्या हम बेस्ट के लायक नहीं हैं?

कंगना रानौत भी आदत से मजबूर है, कहीं भी कुछ भी

Kangna Ranout and chetan

वह आगे लिखते हैं, क्या हम विदेशों से रक्षा उपकरण नहीं खरीदते हैं? क्या यह एक यु’द्ध जैसी स्थिति नहीं है? वैक्सीन केवल यहीं की ही क्यों बनी हुई होनी चाहिए?”

भारत से नफरत कब बंद करोगे: चेतन भगत के इस ट्वीट का करारा जवाब देते हुए कंगना रनौत ने लिखा, “किसने कहा कि वह बेस्ट हैं? मेरे कुछ दोस्त हैं, जिन्होंने फाइजर वैक्सीन लगवाई। वे बुखा’र और शरीर में हो रहे द’र्द से बुरी तरह से जूझ रहे हैं। आप सभी भारत और भारतीय से नफर’त करना कब बंद करेंगे?”

कंगना रनौत ने अपने ट्वीट में आगे लिखा, “हमारी अपनी वैक्सीन की दुनिया में काफी मांग की जा रही है। इस समय आत्मनिर्भर भारत का मतलब है अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देना और उसमें वृद्धि होना। ऐसे में की’ट बनना बंद कीजिए।

बता दें कि कंगना रनौत यहीं नहीं रुकीं। उन्होंने वैक्सीन और #ResignModi के ट्विटर पर ट्रेंड करने को लेकर कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा। अपने एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, “महाराष्ट्र में रजिस्ट्रेशन हो रहे हैं, लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि वैक्सीनेशन जल्दी शुरू नहीं होंगे।

इसलिए वैक्सीनेशन के लिए कोई तारीख भी नहीं दी जा रही है। क्योंकि मृ’त शरीर कांग्रेस पार्टी की राजनीति के लिए काम कर रहे हैं। वो अधिक मृ’त शरीर चाहते हैं, जिससे गि’द्ध मीडिया को मुद्दा मिल जाए और वह #ResignModi ट्रेंड करवा सके।”

मोदी के लायक नहीं हैं आप: इससे इतर कंगना रनौत ने बॉलीवुड कलाकारों द्वारा महाराष्ट्र सरकार के फ्री वैक्सीनेशन का समर्थन करने पर भी निशाना साधा।

उन्होंने लिखा, “केंद्र राज्यों को फ्री में वैक्सीन दे रहा है और बॉलीवुड के ये लोग बुरी तरह से प्रभावित उन राज्यों की सरकारों का महिमामंडन कर रहे हैं, जिन्होंने सबसे ज्यादा मौ’तों में योगदान दिया है। ये बात तय है कि आप लोग मोदी के लायक नहीं हैं। source

दिल्ली (नोएडा) के रहने वाले ज़ुबैर शैख़, पिछले 10 वर्षों से भारतीय राजनीती पर स्वतंत्र पत्रकार और लेखक के तौर पर कई न्यूज़ पोर्टल और दैनिक अख़बारों के लिए कार्य करते हैं।