VIDEO: मस्जिद को ढहाकर बनाया शौचालय, 2 को शराब-सिगरेट की दुकान, जो इस्लाम में हराम चीन ने उइगर मुस्लिमों की…

चीन में उइगर मुस्लिमों की स्थिति दिन-प्रतिदिन खराब होती जा रही हैं. अब चीनी सरकार शिनजियांग प्रांत में उइगर मुस्लिमों की संस्कृति को बदलने पर तुली हैं. चीनी सरकार मुस्लिमों विरासत को ह’टाने के प्रयास कर रही हैं. इसी कड़ी में यहां के आतुश में एक मस्जिद को ढहाने के आदेश जारी किये गए है, इतना ही नहीं उसकी जगह पर सार्वजनिक शौचालय खोल दिया गया है. जिसका पूरी दुनिया में विरोध जताया जा रहा है.

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की सरकार पर आरोप लगाए जा रहे है कि वो शिनजियांग में मुस्लिमों को इस्लाम की जगह चीनी सभ्यता में ढालने की आ’क्रामक प्रयास कर रही हैं. इसी के तहत साल 2016 में एक अभियान शुरू किया गया था.

जिसके जरिए आतुश के सुंगाग गांव में दो मस्जिदों को गिराया गया जिसमें से एक तोकुल मस्जिद थी. रेडियो फ्री एशिया के अनुसार एक स्थानीय अधिकारी ने बताया कि इन मस्जिदों को ढहा कर इसके स्थान पर सार्वजनिक शौचालय बना दिये गए है.

न्यूज पोर्टल ने बताया है कि उइगर के एक अधिकारी ने उन्हें नाम जाहिर ना करने की शर्त पर बताया कि तोकुल मस्जिद को 2018 में ढहा दिया गया था और हान कॉमरेड्स ने उसकी जगह पर शौचालय का निर्माण कराया था हालांकि अभी तक इसका संचालन शुरू नहीं किया गया हैं.

अधिकारी के अनुसार इलाके के लोगों के घरों में शौचालयों नहीं हैं जिससे उन्हें दिक्कत आती है और यहां बाहर से भी ज्यादा लोग आते हैं जिनके लिए इसकी जरूरत थी.

 

 

ऐसे में माना जा रहा है कि उइगर मुस्लिमों की सभ्यता के खिलाफ अभियान के तहत इस तरह के कामों को अंजाम दिया जा रहा हैं. इतना ही नहीं अजना मस्जिद को गिराकर उनके स्थान पर श’राब और सि’गरेट का स्टोर खोला गया है जिनका इस्तेमाल इस्लाम में पूरी तरह से प्रतिबंधित है.

RFA के अनुसार राष्ट्रपति शी जिनपिंग के Mosque Rectification अभियान के जरिए 70 प्रतिशत मस्जिदें ढहा दी गई हैं और इसके पीछे सामाजिक सुरक्षा को कारण बताया जाता हैं.

साभार- नवभारत टाइम्स