VIDEO: CAA का विरोध कर रहे कम्युनिस्ट पार्टी के नेता ने बीच चौराहे पर खुद को लगाई आग

इंदौर: केंद्र सरकार द्वार नागरिकता संशोधन कानून को दोनों सदनों में मंजूरी मिलने के बाद से ही लगातार देशभर में विरोध प्रदर्शन जारी है। इसके लेकर विपक्ष और अन्य संगठन पुरजोर तरीके से विरोध कर रहे हैं। वहीं बीजेपी नागरिकता संशोधन कानून को लेकर राष्ट्रव्यापी जनजागरण चलाने और लोगों को जागरूक करने में लगी है, लेकिन इसी बीच मध्य प्रदेश एक ऐसी खबर आ रही है जिसे सुनकर हर कोई हैरान है।

आपको बता दें मध्य प्रदेश के इंदौर में कम्युनिस्ट पार्टी से जुड़े एक बुजुर्ग ने शुक्रवार को कथित तौर पर सीएए और एनआरसी के विरोध में खुद को आ’ग के हवाले कर दिया. ये घटना इंदौर शहर के गीता भवन चौराहे की है। हालांकि मौके पर मौजूद लोगों ने उसे बचा लिया और तुरंत एंबुलेंस की मदद से महाराजा यशवंत राव अस्पताल में भर्ती कराया गया।

RAMESH PRAJAPATI

सीएए के विरोध में कम्युनिस्ट पार्टी के बुजुर्ग नेता ने खुद को लगाई आ’ग, 90% झुल’से

CAA और NRC के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में शामिल द्वारकापुरी थाना क्षेत्र में रहने वाले 75 वर्षीय माकपा नेता रमेश प्रजापति ने शुक्रवार शाम को तुकोगंज थाना क्षेत्र के गीता भवन चौराहे पर खुद को आ’ग लगा ली. इसके बाद उन्हें किसी तरह लोगों ने बचाया और पुलिस को सूचना देकर अस्पताल में भर्ती कराया।

सीएए और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में शामिल एक स्थानीय कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य और रमेश से परिचित एक शख्स ने बताया कि रमेश प्रजापत काफी लंबे समय से कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य रहे हैं. जामा मस्जिद पर चल रहे CAA के विरोध प्रदर्शन में भी वे शामिल हुए थे. इसके अलावा शहर की अलग-अलग बस्तियों में भी रमेश प्रजापत और उनकी कम्युनिस्ट पार्टी के लोगों ने सीएए के विरोध में लोगों से मिल रहे थे।

बेटे ने कहा इस घटना काे राजनीतिक रंग न दिया जाए

वही यूथ कांग्रेस अध्यक्ष रमीज खान के मुताबिक रमेश प्रजापति ने खुद को आ’ग लगाने से पहले CAA और NRC के खिलाफ नारे लगाए थे। हालांकि, बेटे दीपक का कहना है कि घटना काे राजनीतिक रंग न दिया जाए। अभी पता नहीं चला कि उन्होंने यह कदम क्यों उठाया?

 

हालांकि, बेटे दीपक प्रजापति ने कहा की मेरे पिता ने अपने आपको को आ’ग क्यों लगाई इस बात की जानकारी हमें नहीं है। वही पुलिस उनके और परिजनों के बयान दर्ज कर रही है और मामले की जांच में जुटी है।