VIDEO: हिं’सा में मा’रे गए रोहित सोलंकी के पिता बोले- आग लगा कर कपिल मिश्रा घर में घुस गया, हमारे बेटे म’र रहे

नागरिकता कानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच हुई हिं’सक झड़प को लेकर बुधवार को दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान जज भड़क उठे इस दौरान जस्टिस मुरलीधर ने कहा कि स्थिति काफी खराब है। हमने सभी वीडियो देखे हैं। कई नेता भड़काऊ भाषण दे रहे हैं। वीडियो कई सारे न्यूज चैनलों पर मौजूद है। लेकिन पुलिस का कहना था कि उसने कपिल मिश्रा का कोई वीडियो नहीं देखा है जिसके बाद जज भड़क गए।

बता दें भाजपा नेता कपिल मिश्रा भड़काऊ बयानबाजी के लिए कई बार सुर्खियों में रह चुके हैं। लेकिन इस बार उनकी यह बयानबाजी उन पर ही भारी पड़ गई है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने उनके बयान से किनारा कर लिया है और पूर्वी दिल्ली से सांसद गौतम गंभीर ने साफ कह दिया है कि आ’पत्ति’जनक बयानबाजी करने वालों को सबक सिखाया जाना चाहिए।

गौरतलब है की दिल्ली हिं’सा में अब तक 21 लोगों की मौ’त हो चुकी है और 100 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। वही म’रने वालों में शामिल राहुल सोलंकी के पिता ने इस पूरी हिं’सा के लिए भाजपा नेता कपिल मिश्रा को जिम्मेदार बताया है।

जानकारी के अनुसार, सोमवार को ही करावल नगर में मार्केट एग्जिक्यूटिव राहुल सोलंकी की ह#त्या कर दी गई। उस वक़्त वो घर का सामान ख़रीदने घर से बाहर निकले थे। इस दौराम हिं’सक भी’ड़ ने ह’मला बोल दिया, जिसमें वो बुरी तरह से घायल हो गया और अस्पताल जाते जाते उन्होंने द’म तोड़ दिया।

मीडिया के अनुसार राहुल के पिता हरि सिंह सोलंकी ने कहा, कपिल मिश्रा आग लगा के अपने घर में घुस गया और अब हमारे बेटे मर रहे हैं। सोलंकी के अलावा अन्य मृ’तकों और घायलों के रिश्तेदारों ने भी हिं’सा फैलाने के लिए कपिल मिश्रा को जिम्मेदार ठहराया है।

 

सोलंकी ने कहा, अगर इसे रोका नहीं गया, तो लोग अपने बच्चों को खोते रहेंगे। इसलिए कपिल मिश्रा को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए। उनके परिवार ने आरोप लगाया कि कोई भी निजी क्लिनिक राहुल को भर्ती करने के लिए तैयार नहीं था, और जीटीबी अस्पताल ले जाने के दौरान उसकी मौ’त हो गई।

आपको बता दें राहुल सोलंकी की छोटी बहन मुंबई एयरपोर्ट पर ASI के रूप में तैनात है और उसकी शादी अगले महीने अप्रैल में होनी थी। वही इसी हिं’सा में मोहम्मद अशफ़ाक़ की भी मौ’त हुई। उन्हें भी दं’गाइ’यों ने गो’ली मा’री थी। एशियाविल हिंदी ने जब उनके भाई अफ़सर से जीटीवी अस्पताल में मुलाक़ात की तो उन्होंने भी इस हिं’सा के लिए कपिल मिश्रा को ज़िम्मेदार ठहराया।

अफ़सर ख़ान के मुताबिक़ वही हुआ जो कपिल मिश्रा चाहते थे। उन्होंने सवालिया लहज़े में पूछा कि अशफ़ाक के 5-7 साल के दो बच्चे हैं अब उन्हे कौन पालेगा? क्या कपिल मिश्रा अब उन बच्चों को पालेगा?

बता दें 32 साल के फुरकान खान हैंडीक्राफ्ट और डिजाइनर कार्ड बनाने का काम करते थे। वे कर्दमपुरी के रहने वाले थे। परिवार ने बताया कि उनके बाएं पैर में गो’ली लगी थी। ज़्यादा ख़ून बह जाने से अस्पताल में उनकी मौ’त हो गई। वही परिवार वालों का कहना है कि इलाक़े में तनाव के चलते फुरकान काम पर भी नहीं गए थे।

लेकिन बाद में कुछ सामान ख़रीदने के लिए पास की दुकान पर गए थे। इसी दौरान उन्हें गो’ली लगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें, दिल्ली हिं’सा से पहले कपिल मिश्रा उत्तर पूर्वी दिल्ली पहुंचे थे और वहां सीएए का विरोध कर रहे लोगों के खिलाफ भाषणबाजी की थी।

मिश्रा का एक वीडियो भी सामने आया है. जिसमें वह दिल्ली पुलिस को अल्टिमेटम देते हुए दिख रहे हैं कि तीन दिन में रास्ता खाली करवा दें, वरना ख’तरना’क अंजाम होगा इस के बाद से ही कपिल मिश्रा की भूमिका पर चौतरफ़ा सवाल उठ रहे हैं।

जामिया समन्वय समिति ने उन्हें तत्काल गिरफ़्तार करने की मांग की है। सुप्रीम कोर्ट में भीम आर्मी द्वारा दायर याचिका में भी उन पर कार्रवाई की मांग की गई है। बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने भी मिश्रा पर कार्रवाई करने की बात कही थी।

Leave a Comment