अगर पाकिस्तान का ही हाथ है तो, पु'लवामा ह'मले की जांच कराने से क्यों ड'र रही है BJP: कांग्रेस

अगर पाकिस्तान का ही हाथ है तो, पु’लवामा ह’मले की जांच कराने से क्यों ड’र रही है BJP: कांग्रेस

शनिवार को कश्मीर घाटी में जम्मू कश्मीर के सुरक्षाबलों ने चेकिंग के दौरान दो आ’तंकवा’दि’यों के साथ घाटी में तैनात डीएसपी देविंदर सिंह को गिरफ्तार किया है। डीएसपी के गिरफ्तारी किये जाने के बाद विपक्ष ने पु’लवामा ह’मले की फिर से जांच करने की मांग कर रही है। कांग्रेस के द्वारा जांच करने की मांग इसलिए की जा रही है क्योंकि जिस समय पुलवामा में ये ह’मला हुआ था उस समय पुलवामा के डीएसपी देविंदर सिंह थे।

बता दें एक ट्वीट के द्वारा कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि हम खुद को मुर्ख नहीं बना सकते। घाटी में जो उजागर हुई है। ऐसे में सवाल तो उठता है कि पूलवामा में जो कुछ भी हुआ उसके पीछे किसका हाथ था। आपको बता दें कि पिछले साल फरवरी में पुलवामा में आ’तंक’वा’दी ह’मला हुआ था। जिसमें 40 जवान शहीद हो गये थे।

अधीर चौधरी ने ‘RSS की ट्रोल रेजिमेंट’ से पूछा DSP का पु’लवामा ह’मले में क्या रोल?

पुलवामा में जिस वक्त ये ह’मला हुआ था डीएसपी देविंदर सिंह घाटी में पदस्त थे। बता दें की जिस समय पु’लवामा में ये ह’मला हुआ था, कांग्रेस उसी समय से दविंदर सिंह की तैनाती को लेकर सवाल खड़े कर जांच की मांग कर रही है। कांग्रेस ने बीजेपी पर ये आरोप लगाया की बीजेपी इस जांच से बचती नजर आ रही है।

वहीं कांग्रेस के इस बयान को लेकर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा की कांग्रेस इस मामले को फिर से जांचने की बात करके भारत के पीठ में खंजर घोप रहा है। बीजेपी के द्वारा दिये इस बयान से ये स्पष्ट हो गया है कि वो पू’लवामा आ’तं’की ह’मले की फिर से जांच करने के मुड में नहीं है।

पु’लवामा ह’मले की नए सिरे से हो जांच

उधर जन अधिकार पार्टी के संरक्षक पप्पू यादव ने भी पू’लवामा मामले की जांच को लेकर बीजेपी पर सवाल किये है। एक ट्वीट में पप्पू ने कहा कि ह’मले की जांच से क्यों ड’र रही है भाजपा?जांच होगी तभी असली गुनहगार सामने आएंगे,पाकिस्तान का ही अगर हाथ है तो उसके साथ किसने हाथ मिला RD’X वहां पहुंचाया?कुल 78बस में से किसने बिना बुलेट प्रूफ बस की पहचान कर आ’तं’की ह’मला करने में मदद की?

हलाकि पप्पू यादव के द्वारा दिये इस बयान पर फिलहाल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है लेकिन सवाल अभी भी है कि आखिर बीजेपी इस मामले को फिर से जांच करने से पीछे क्यों हट रही है।

Leave a Comment