बड़ा सवाल: कांग्रेस के समय महंगे पेट्रोल पर शोर मचाने वाले अक्षय कुमार, अनुपम खेर, अमिताभ जैसे लोग अब क्यों बैठे हैं चुप?

भारत में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ाए जा रहे हैं. पिछले 18 दिन से पेट्रोल और डीजल के दाम हर रोज बढ़ रहे हैं. जिसके चलते अब देश के कई शहरों में पेट्रोल के दाम 80 रुपये को पार कर चुके है वहीं कई शहरों में डीजल के दाम ने पेट्रोल के दामों को भी पीछा छोड़ दिया है और ऐसा पहली बार हुआ हैं जब डीजल पेट्रोल से भी ज्यादा मंहगा हुआ है. वहीं दिल्ली में पेट्रोल और डीजल के दामों के बीच महज 36 पैसे का अंतर रह गया है.

आज मंगलवार को 40 पैसे डीजल के दामों में बढ़ाए गए है जबकि पेट्रोल के दामों में आज बढ़ोत्तरी नहीं की गई हैं. इसी के साथ पिछले 18 दिनों के अंदर डीजल की कीमत में 10.48 रुपए और पेट्रोल की कीमत में 8.50 रुपए की बढ़ोतरी हो चुकी हैं.

भारत में पेट्रोल और डीजल के दाम ऐसे समय में बढ़ाए जा रहे है जब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमत ना सिर्फ स्थिर है बल्कि काफी कम भी हैं. पिछले काफी समय से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 35-40 डॉलर प्रति बैरल के बीच ही बनी हुई हैं.

सरकार कच्चे तेल के सस्ते होने का फायदा शायद जनता को नहीं देना चाहती है लेकिन इसके उल्ट सरकार बिना वजह दामों में बढ़ोत्तरी करके आर्थिक सं’कट का सामना कर रही जनता के संकट को और बढ़ा रही हैं.

इसी बीच सोशल मीडिया पर कुछ बड़े नाम चर्चा में आ गए है जो अभी बढ़ते पेट्रोल के दाम पर चुप्पी साधे बैठे है जबकि यही लोग कांग्रेस सरकार में दाम बढ़ने पर खूब ट्वीट किया करते थे. इस कड़ी में बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार से लेकर अनुपम खेर समेत कई बड़े नाम भी शामिल हैं.

सोशल मीडिया पर इन लोगों के कुछ पुराने ट्वीट जमकर वायरल हो रहे है. जिसमें यह अभिनेता मौजूदा कांग्रेस सरकार पर हम’ला बोल रहे थे. इसमें बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन भी पीछे नहीं रहे उन्होंने भी पेट्रोल की कीमत को लेकर सरकार पर तंज कसा था.

ऐसे में सोशल मीडिया साइट ट्वीटर में यह ट्रेड कर रहा है और यूजर इन लोगों से चुप्पी का कारण पूछ रहे हैं. कई लोगों का कहना है कि जब कांग्रेस के समय में दाम बढ़ते थे तब शोर मचाने वाले अब मोदी सरकार के समय क्यों चुप बैठे हैं.

आपको बता दें कि साल 2012 में जब यह सब अभिनेता सरकार पर करारे तंज कस रहे थे तब अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत काफी ज्यादा थी. उस समय एक बैरेल कच्चे तेल की कीमत करीब 150 डॉलर के आस-पास थी जबकि भारत में पेट्रोल की कीमत करीब 75 रुपये थी.

वहीं मौजूदा समय की बात की जाए तो एक बैरेल कच्चे तेल की कीमत 35-40 डॉलर के आसपास बनी हुई है जबकि देश में पेट्रोल की कीमत 80 रुपये से भी ज्यादा हो चुकी है और इसके बाद भी लगातार दाम बढ़ाए जा रहे हैं. अब सवाल ये उठता है कि क्या इन अभिनेताओं को अब पेट्रोल की कीमत अधिक नहीं लग रही या ये सरकार के पल्लू में छुपकर बैठ गए हैं?

साभार- फायर टाइम्स