कोरोना: भारत ने चीन और अमेरिका को भी पछाड़ा, म’रने वालों की बढ़ती संख्या

कोरोना की म’हामा’री से भारत में मौ’त लगातार बढ़ता जा रहा है. भारत में कोरोना के प्रसार की संख्या 100 से 1000 तक पहुंचने में 15 दिन का वक्त लगा था. ये एक उत्साहजनक आंकड़ा था क्योंकि ये दुनिया भर में धीमी गति से बढ़ने का दूसरा स्थान था लेकिन यह प्रदर्शन कायम नहीं रह पाया.

विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार 08 अप्रैल की दोपहर तक भारत में कोरोना पॉजिटिव केस की संख्या 5200 को पार कर चुकी थी. 31 मार्च तक यह आंकड़ा 1071 का था लेकिन 09 दिन में ही संख्या पांच गुनी से ज्यादा हो गई. 5000 केस पहुंचने तक मौ’त के आंकड़ों में दुनिया भर में भारत का स्थान आंठवा था जबकि अमेरिका, चीन, ईरान और स्पेन जैसे देशों में 5000 केस तक मौं’त का आंकड़ा भारत से कम था.

5000 मामलों के बाद मौ’त की संख्या

स्वीडन पहले नंबर का देश है जहां 5000 मामले सामने आने तक 282 मौ’तें हो चुकी थी. स्वीडन के बाद नीदरलैंड्स का नंबर आया जहां 5000 मामले सामने आने के बाद 276 लोगों की मौ’त कोरोना की वजह से हो गई, जबकि इटली में 234, यूके में 233, बेल्जियम में 220, डेनमार्क में 203 और ब्राजील में 207 मौ’तें हुई.

भारत इस चार्ट में आंठवें नंबर पर है जहां 5000 मामलों के बाद 149 लोगों की मौ’त हो गई.

भारत के बाद फ्रांस है जहां 148 ईरान में 145 स्पेन में 136 चीन में 132 और अमेरिका में 100 लोगों के मरने की खबर है. वहीं जर्मनी इस मामले में बेहद भाग्यशाली है जहां 6012 केस सामने आने के बाद मात्र 13 लोगों की ही मृ#त्यु हुई.

1000 से 5000 मामलों में तेजी

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार 08 अप्रैल तक दुनिया के 27 ऐसे मुल्क रहे जिनके यहां कोरोना के मामले 5000 पार कर चुके हैं. आश्चर्यजनक तथ्य है कि जब भारत ने 1000 का आंकड़ा पार किया था तब विश्व के 42 मुल्क ऐसे थें जहां पर कोरोना के 1000 मामले आ चुके थें या इसके पार जा चुके थें.

1000 से 5000 मामले पहुंचने में चीन को चार दिन लगा जबकि स्पेन, ईरान और तुर्की में ये पांच दिन में हुआ जबकि भारत समेत दुनिया के 13 देशों में ये आंकड़ा पहुंचने में 07 से 10 दिन का वक्त लग गया.

Source: thelallantop.com

Leave a Comment