VIDEO:- डिबेट के दौरान अमीश देवगन ने खोया आपा, पैनलिस्ट तस्लीम रहमानी ने जमकर की बेज्जती

भारतीय मीडिया का डिबेट का स्तर लगातार गिरता जा रहा है. नेशनल टीवी पर लाइव डिबेट के दौरान भाषा की मर्यादा का उल्लंघन तो ऐसे आम बात होती जा रही है. लाइव डिबेट शो के दौरान एंकर और पैनलिस्ट गा’लि’यां तक बक देते है. बहस का स्तर इतना गिर चूका है कि भा’डवा, दलाल और तो और माँ बहन की ग’लि’यां तक लाइव शो के दौरान दी जा रही है. इतना ही नहीं कई बार एंकरों के सामने पैनलिस्ट में हाथापाई तक हो चुकी हैं.

वहीं अभी हाल ही में पूर्व आर्मी मेजर जीडी बख्सी ने अपना आपा खो किया था. बख्सी ने एक पैनलिस्ट को माँ की गाली दे डाली थी. जिसके बाद काफी विवाद खड़ा हुआ है. यह मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि एक और मामला सामने आ गया है.

इस बार डिबेट के दौरान एक एंकर ने अपना आपा खो दिया. दरअसल न्यूज़ 18 इंडिया पर चीन और भारत के बीच जारी सीमा विवाद पर हर रोज डिबेट की जा रही है. ऐसी ही एक डिबेट के दौरान एंकर अमीश देवगन अपना आपा खो बैठे.

डिबेट के दौरान मुस्लिम पॉलिटिकल काउंसिल ऑफ़ इंडिया के अध्यक्ष तस्लीम रहमानी ने सरकार पर राष्ट्रवाद को बेचने का प्रयास करने के आरोप लगाए.

जिस पर न्यूज़ एंकर अमीश देवगन भड़क उठे. इसके बाद अमीश जोर-जोर से चिल्लाने लगे तभी रहमानी ने अमीश को कम्युनल बदतमीज कह कर संबोधित कर दिया. एंकर ने चिल्लाते हुए कहा कि तस्लीम रहमानी आप बोल रहे कि यह राष्ट्रवाद दिखावटी हैं, क्यों, क्यों हैं दिखावटी?

इस पर जवाब देते हुए रहमानी ने कहा कि हम जब भी टीवी चालू करते हैं तो चीन और भारत का झगड़ा नहीं दिखाई देता है बल्कि ऐसा लगता है कि यहां कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी का झगड़ा चल रहा है.

राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर सभी को साथ लेकर चलना जरुरी होता है. ऐसे में सरकार को चीजों को नहीं छुपना चाहिए और ना ही चुनाव को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रवाद को बेचने की कोशिश करना चाहिए.

इस पर अमीश ने पूछा कैसे राष्ट्रवाद को बेचने की कोशिश की जा रही है? इस पर जैसे ही रहमानी ने जवाब देना चाहा, अमीश अपना आपा खो बैठे और जोर-जोर से चिल्लाने लगे. उन्होंने कहा कि बॉर्डर पर जाना, भारत माता कि जय बोलना आपको राष्ट्रवाद बेचने कि कोशिश लगती है.

अमीश ने आगे कहा कि भगवान कृष्ण के सुदर्शन कि बात करना, भारत माता की बात करना राष्ट्रवाद बेचने की कोशिश हैं? इस पर रहमानी ने अमीश को बीच में ही टोकते हुए कहा कि आपके दिमाग से सांप्रदायिकता की बदबू आ रही है. ये आपके दिमाग कि सड़ाध हैं, आप कम्युनल बदतमीज है और मुझे आप जैसे कम्युनल बदतमीज से बात ही नहीं करनी हैं.