देश में नहीं थम रहा कोरोना का कहर, 24 घंटे में आए हैरान कर देने वाले आंकड़े, 582 लोगों की मौ’त

भारत में कोरोना का कहर थमता नजर नहीं आ रहा है, लॉकडाउन खुलने के साथ ही कोरोना वायरस के मामले और भी तेजी से बढ़ने लगे है. वहीं महाराष्ट्र देश में सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्य बना हुआ है. महाराष्ट्र में प्रतिदिन 6 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. जिसे देखते हुए अब महाराष्ट्र सरकार ने एक बड़ा कदम उठाने का फैसला किया हैं. महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने सूबे में लॉकडाउन के दुसरे फेज को लागू करने का ऐलान किया हैं.

महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में 18 जुलाई से लेकर 23 जुलाई तक सख्त लॉकडाउन लागू करने की घोषणा की हैं. हालांकि इस दौरान आवश्यक वस्तुओं की बिक्री जारी रखने का फैसला लिया गया हैं.

बताया जा रहा है लॉकडाउन के दौरान सिर्फ मेडिकल स्टोर, दूध डेयरी, हॉस्पिटल और इमरजेंसी सेवाओं को ही संचालन करने की इजाजत दी जाएगी, इसके आलावा अन्य सेवाएं बंद रहेंगी.

वहीं देश भर में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना के अब तक के सबसे ज्यादा 29 हजार 429 नए पॉजिटिव केस पाए गए हैं. वहीं इस दौरान 582 लोगों की मौ’त हुई है. इसी के साथ बुधवार तक देश भर में कोरोना सं’क्रमि’तों की संख्या 9 लाख 36 हजार 181 पर पहुंच गई हैं.

वहीं अब तक कोरोना के चलते इस दुनिया को अलविदा कहने वालों की तादात अब 24 हजार 309 हो गई है. वहीं मौजूदा समय में देश भर में कोरोना के 3 लाख 19 हजार 840 स’क्रीय केस हैं.

वहीं महाराष्ट्र की बात कि जाए तो यहां पर हालात सबसे ज्यादा खराब हैं. आपको बता दें कि देश के कुल मौ’तों की एक-तिहाई से ज्यादा का हिस्सा सिर्फ महाराष्ट्र से हैं. सूबे में अब तक कोरोना पी’ड़ि’तों की संख्या 2 लाख 67 हजार पर पहुंच चुकी हैं. वहीं पिछले 24 घंटे के 213 नई मौ’तों के साथ अब कोरोना से मा’रने वालों की संख्या 10,695 पर पहुंच गई हैं.

इसके साथ ही कर्नाटक ने भी कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन लगा लिया हैं. राज्य सरकार ने राजधानी बेंगलुरु में लॉकडाउन का आदेश दिया है. कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए 14 जुलाई से ही लॉकडाउन लागू कर दिया था जो 22 जुलाई की सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा.

साभार- जनसत्ता