स्वामी कृष्णस्वरूप दास के पीरियड्स वाले बयान पर भड़के डायरेक्टर, कहा- तो ऐसा होगा हिंदू राष्ट्र….

मुंबई: गुजरात के धार्मिक नेता ने कहा है कि मासिक धर्म के समय खाना बनाने वाली महिलाएं अगले जन्म में कुतिया के रूप में जन्म लेंगी और उनके हाथ का बना भोजन खाने वाले पुरुष बैल के रूप में जनम लगे। दरअसल, यह बयान स्वामीनारायण मंदिर से जुड़े स्वामी कृष्णस्वरूप ने दिया है। अपने इस बयान के बाद से ही वह लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं।

बता दें स्वामी कृष्णस्वरूप की इस टिप्पणी को लेकर अभिनेत्री ऋचा चड्ढा के बाद अब बॉलीवुड के जाने-माने डायरेक्टर अनुभव सिन्हा ने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा कि इस्की कोई गलती नहीं है. सब हमारी ही गलती है। अनुभव सिन्हा का ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

अनुभव सिन्हा ने अपने पहले ट्वीट में लिखा है कि इनका कोई गलती नहीं हैं। सब हमारा गलती है। ठीक है? और वही दूसरा ट्वीट करते हुए उन्होंने कहा है कि ऐसा होगा हिंदू राष्ट्र, चाहिए? , अनुभव का यह ट्वीट इस वक्त सोशल मीडिया पर आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

लोग अनुभव के ट्वीट पर काफी रिएक्शन दे रहे हैं, कुछ ने लिखा है कि पता नहीं लोग इन साधु बाबा लोगों के पास क्यूं जाते हैं। सारी कहानियां पोथी पुराण इंटरनेट पर हिन्दी में उपलब्ध हैं। भगवान तक पहुंचने के लिए दलाल क्यों जरूरी है।

वही एक यूजर लिखता है की मासिक धर्म के समय खाना बनाने वाली महिलाओ के भोजन जो खाएगा वो आरएसएस का प्रचारक बनेगा। दरअसल गुजरात के भुज स्थित स्वामीनारायण मंदिर के स्वामी कृष्णस्वरूप दास ने महिलाओं को लेकर एक वि’वा’दित बयान दिया था। जिसके बाद उनकी खूब आलोचना हो रही है।

दरअसल, स्वामी कृष्णस्वरूप ने कहा कि अगर महिलाओं को पीरियड्स आ रहे हैं तो उन्हें इस दौरान खाना नहीं बनाना चाहिए, यह पक्का है कि यदि पुरुष मासिक धर्म के चक्र से गुजर रहीं महिलाओं के हाथ का बना खाना खाते हैं तो वे अगले जन्म में बैल बनेंगे।

आपको बता दें कि स्वामी कृष्णस्वरूप दासजी भुज मंदिर के उपदेशक हैं। उन्होंने गुजराती भाषा में जो बयान दिया है उसका वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

Leave a Comment