डॉक्टर कफील की रिहाई को लेकर प्रियंका गांधी ने दिए निर्देश, अगले 15 दिनों तक उत्तर प्रदेश में…

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज के पूर्व डॉ. कफील खान पिछले काफी समय से राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत मथुरा जेल में बंद है. अब उनकी रिहाई के लिए उत्तर प्रदेश कांग्रेस राज्यव्यापी अभियान चलाने जा रही हैं. इसकी जानकारी कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग द्वारा दी गई हैं. पिछले साल 12 दिसम्बर को डॉक्टर कफील को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में विवादित भाषण देने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था.

बता दें कि कफील अलीगढ़ युनिवर्सिटी में संशोधित नागरिकता कानून विरोधी प्रदर्शन के दौरान गए थे और उन्होंने यहां भाषण भी दिया था. उन पर आरोप है कि उन्होंने जहां भड़’काऊ भाषण दिया.

हालांकि इस मामले में उन्हें फरवरी में कोर्ट ने जमानत दे दी थी, लेकिन उनकी रिहाई से पहले ही उनके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगा कर मामला दर्ज कर दिया गया.

इसके बाद से भी वो जेल की सलाखों के पीछे हैं, देश भर में उनकी रिहाई की मांग की जा रही हैं. इसी कड़ी में अब कांग्रेस भी डॉ. कफील खान की रिहाई की मांग उठाने जा रही हैं.

मंगलवार को यूपी कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष शाहनवाज आलम ने बताया कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने फैसला लिया है कि पुरे उत्तर प्रदेश में डॉ. कफील की रिहाई के लिए प्रदेशव्यापी आंदोलन शुरू किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत कांग्रेस कार्यकर्त्ता अगले 15 दिनों तक सूबे में घर-घर जाकर डॉ. कफील की रिहाई के लिए हस्ताक्षर अभियान, सोशल मीडिया अभियान, मज़ारों पर चादरपोशी तथा रक्तदान जैसे कई अन्य कार्यक्रम आयोजित करने जा रही हैं.

आपको बता दें कि कफील खान के मामले में सुनवाई लगातार टलती जा रही हैं. पहले बताया जा रहा था कि इस मामले की सुनवाई 22 जुलाई को हो सकती हैं लेकिन अब इस मामले में 30 जुलाई को सुनवाई होने की संभावनाएं जताई जा रही हैं.

गौरतलब है कि अगस्त 2017 में डॉक्टर कफील खान गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में कथित रूप से ऑक्सीजन की कमी के चलते 60 से अधिक मासूम बच्चों की मौ’त के मामले के बाद खबरों में आए थे.

साभार- एबीपी न्यूज़