मोदी सरकार जब किसी संकट में होती है तब वह इसी तरह का इस्तेमाल करती है: अहमद पटेल

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल से शनिवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ने स्टर्लिंग-बायोटेक मामले में 8 घंटे तक पूछताछ की. ईडी की इस पूछताछ के बाद कांग्रेस सांसद अहमद पटेल ने मोदी सरकार पर निशाना साधा. अहमद पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह के दोस्त मेरे घर पर आए थे. मुझसे जो भी सवाल पूछा गया उसका मैंने बराबर जवाब दिया।

वही (ईडी) द्वारा पूछताछ किए जाने के बाद अहमद पटेल ने आरोप लगाया कि केंद्र की मोदी सरकार जब भी किसी संकट में होती है तब वह इसी तरह जांच एजेंसियों का इस्तेमाल करते है, ताकि विमर्श को बदला जा सके उन्होंने यह भी कहा कि उनकी नियत बिल्कुल साफ है और उनके पास छिपाने को कुछ भी नहीं है।

कांग्रेस सांसद ने कहा कि केंद्र सरकार अपनी नाकामियां छिपाने के लिए विपक्ष को निशाना बना रही है. उन्होंने कहा कि मुझे अधिकारियों के प्रति दया आती है जिनका इस्तेमाल ध्यान भटकाने के लिए किया जा रहा है. ऐसे समय में जब चीन ने हमारी जमीन पर कब्जा कर लिया है और उस जमीन को वापस हासिल करने के बजाय सरकार विपक्ष के पीछे पड़ी है।

कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने एक बयान में कहा, की जब भी कोई चुनाव आता है, या फिर सरकार किसी संकट में होती है, एक या ज्यादा जांच एजेंसियां सक्रिय हो जाती हैं, किसी व्यक्ति विशेष के निर्देश पर ऐसा होता है। पटेल ने दावा किया, दुर्भाग्यवश, इस बार अर्थव्यवस्था, स्वास्थ्य और राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े संकट से निपटने में मोदी सरकार की विफलता इतनी बड़ी है कि कोई भी एजेंसी विमर्श को बदलने में मददगार साबित नहीं होगी।

आज तक की खबर के अनुसार, उन्होंने आरोप लगाया कि (कोविड-19) म’हामा’री और चीन से लड़ने के बजाय यह सरकार विपक्ष से लड़ने को ज्यादा आतुर है. कांग्रेस नेता ने कहा की हमारे पास छिपाने के लिए कुछ नहीं है और न हमें सरकार की आलोचना करने और उसकी नाकामियों एवं उसके पहले के भ्रष्टाचार को बेनकाब करने में कोई डर है।

गौरतलब है कि इस मामले में ईडी अहमद पटेल के बेटे फैसल और इरफान से पहले ही पूछताछ कर चुकी है. 14500 करोड़ रुपये के बैंक ऋण में धोखाधड़ी से जुड़े इस मामले में आरोपी नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा और दीप्ति संदेसरा फरार चल रहे हैं।

वही एजेंसी ने अहमद पटेल को भरोसा दिलाया कि अपने कार्यालय में पूछताछ के दौरान वह हर सावधानी बरतेगी, लेकिन पटेल की कानूनी टीम ने मीडिया में आ रही उन खबरों को रेखांकित किया, जिनमें कहा जा रहा था कि ईडी मुख्यालय में भी सं’क्र’मण के मामले सामने आए है।

साभार: आजतक