शाहीन बाग को लेकर भिड़े दो बॉलीवुड डायरेक्टर, एक ने दी इस्लाम अपनाने की सलाह, तो दूसरे ने…

नई दिल्ली: देश के अंदर इस वक़्त अगर कोई भी इंसान अपनी बात कहता है और वो बात सरकार के खिलाफ हो तो उसे बोलना कितना मुश्किल है, इसको समझ पाना भी उतना ही मुश्किल है, CAA, NRC और NRP को लेकर सारी तस्वीर साफ़ है लेकिन सरकार खुद भ्रम पैदा कर जनता को दोषी बता रही है, सरकार की नीयत आईने की तरह दिखाई दे रही है, देश भर में डिटेंशन सेण्टर किस के लिए बनाये जा रहे हैं।

दरअसल, शुक्रवार की सुबह विवेक रंजन अग्निहोत्री ने ट्वीट किया था फिल्मकार हंसल मेहता को बॉलीवुड में उनके ही सहकर्मी विवेक रंजन अग्निहोत्री को इस्लाम धर्म अपनाने की सलाह देने पर सोशल मीडिया पर अब जमकर ट्रोलर्स का सामना करना पड़ रहा है। रंजन अग्निहोत्री ने ट्वीट कर कहा कि दिल्ली में सीएए विरोध का इलाका शाहीन बाग एक इस्लामवादी क्षेत्र और अपराधियों के छिपने का ठिकाना बन गया है।

Hansal Mehta

फिल्ममेकर हंसल मेहता डायरेक्टर विवेक रंजन अग्निहोत्री को दी इस्लाम अपनाने की सलाह

गौरतलब है की उत्तर प्रदेश के मेरठ से गायब हुई लड़की के शाहीन बाग में मिलने के बाद इस खबर की चर्चा चारो ओर है। लड़की का अपहरण करने वाले शहजाद के मनसूबों और शाहीन बाग प्रदर्शन के पीछे छिपे मकसद पर लगातार सवाल उठ रहे हैं। इसी को लेकर में फिल्म मेकर विवेक रंजन अग्रिहोत्री ने भी इस वाकये पर अपनी प्रतिक्रिया दी।

लेकिन सीएए के विरोध में खड़े फिल्ममेकर हंसल मेहता से रंजन अग्रिहोत्री की प्रतिक्रिया बर्दाश्त नहीं हुई और उन्होंने विवेक अग्रिहोत्री को इस्लाम अपनाने की सलाह दे डाली। और उनकी इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए हंसल मेहता ने उन पर नफरत फैलाने का आरोप लगाया है। और साथ ही इस्लाम अपनाने की सलाह देते हुए कहा की इसको समझे कि आखिर में यह धर्म क्या है।

मेहता ने ट्वीट किया, दुर्भाग्य की बात है कि ट्विटर आप जैसे कायरों के लिए नफरत फैलाने का एक अड्डा बन गया है। मुझे इस बात की पूरी उम्मीद है कि आप इस्लाम में परिवर्तित हो जाएंगे और इसके बाद आपको इस धर्म के बारे में पूरी बात समझ में आएगी, बल्कि मैं तो यह चाहूंगा कि आप पहले हिंदू धर्म को समझें, ताकि आप इसे और कलंकित न करें।

हलाकि उनके इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर ट्रोलर्स ने हंसल मेहता को आड़े हाथों ले लिया. गृह मंत्रालय को टैग करते हुए एक यूजर ने ट्वीट किया, प्रिय गृहमंत्रीजी अमित शाह यह आदमी खुलेआम कह रहा है कि हिंदुओं को इस्लाम में अपनाना चाहिए. कृपया इस मामले पर गौर फरमाएं।

वही किसी ने लिखा, किसी को दूसरे धर्म में धर्मातरित होने के लिए कहना बुरी बात है, बल्कि उन्हें अपने धर्म को समझना चाहिए, इससे काफी मदद मिलेगी। एक ने लिखा, सर मैं फ्रेंच सीखना चाहता हूं. फ्रांस सेटल होना पड़ेगा क्या?