पूर्व फौजी सौरभ शर्मा 2014 से पाकिस्तान के लिए जासूसी कर रहा था, ATS ने हापुड़ से किया गिरफ्तार

देश की आंतरिक सुरक्षा हो चाहे बाहरी हमेशा ही एक चुनौतीपूर्ण कार्य रहता है। देश की आंतरिक और बाह्य सुरक्षा के लिए तमाम संस्थाएं भी कार्य करती है लेकिन फिर भी इसमें तमाम चुनौतियां आज भी विद्यमान है। तमाम संस्थाओं के होने के बावजूद भी कई बार उग्र संगठनों द्वारा सुरक्षा के घेरे भी भेद दिए जाते हैं। और ऐसा ही एक मामला हाल ही में सामने आया है.

एक रिटायर फौजी को आंतरिक गतिविधियों से जुड़ी सूचनाओं को लीक करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। बता दें हापुड़ के बहादुरपुर थाना क्षेत्र में पड़ने वाले गांव बिहुनि के रहने वाले एक रिटायर फौजी सौरभ शर्मा को इसलिए गिरफ्तार कर लिया गया कि वह आंतरिक गतिविधियों से जुड़ी सूचनाओं को देश से बाहर भेज रहा था.

रिटायर फौजी कर रहा था जासूसी

sharma

बता दें कि रिटायर फौजी सौरव शर्मा ने 2013 में ही सेना की नौकरी ज्वाइन की थी लेकिन सौरव शर्मा ने स्वास्थ्य कारणों की वजह से 2020 में सेना की नौकरी छोड़ दी सौरव शर्मा 6 महीने पहले ही भारतीय सेना की नौकरी छोड़ चुके हैं। और अब उनकी यह करतूत सामने आई है। जिसकी वजह से उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.

एटीएस (ATS) की टीम ने किया गिरफ्तार

ATS यानी Anti-Terro-rism Squad एटीएस मुख्य रूप से देश विरोधी तत्वों की जानकारी जुटाने का कार्य करता है तथा आतं’कवा#द, माफि’या और अन्य संगठित आ’परा’धिक गतिविधियों को ट्रैक करने का कार्य करता है। साथ ही यह रॉ (RAW) और आईबी (IB) जैसी खुफिया एजेंसियों तक सूचनाएं आदान प्रदान करने का कार्य भी करता है.

ऐसे में अब एटीएस मेरठ की टीम ने हापुड़ से रिटायर फौजी को गिरफ्तार किया है। रिटायर फौजी सौरभ शर्मा पर आरोप है कि वह देश की आंतरिक गतिविधियों से जुड़ी सूचनाओं को देश के बाहर भेज रहा है.

बता दें कि रिटायर फौजी सौरभ शर्मा को इससे पहले भी गिरफ्तार किया जा चुका है। लेकिन सबूतों के अभाव में पहले रिटायर फौजी को छोड़ दिया गया था लेकिन इस बार एटीएस की टीम के पास सौरभ शर्मा के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं। जिनके आधार पर एटीएस की टीम का कहना है कि सौरव शर्मा देश की आंतरिक सूचनाओं को बाहर भेजने का काम कर रहा है.

एटीएस की टीम ने सौरभ शर्मा को गिरफ्तार कर लखनऊ भेज दिया है. बता दें कि अब सौरव शर्मा पर सूचनाओं को लीक करने के जुर्म में ऑफिसियल सीक्रेट एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है.

वहीं TV9 भारतवर्ष की खबर के अनुसार सौरभ शर्मा पाकिस्तान के लिए जासूसी कर रहा था वह भारत की आंतरिक सूचनाओं को पाकिस्तान के लिए भेज रहा था और इसके लिए उसे खूब पैसे भी मिल रहे थे लेकिन अब सौरव शर्मा को एटीएस की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है.