VIDEO: ENCOUNTER से पहले इस तरह रोकी गईं मीडिया की गाड़ियां, EXCLUSIVE VIDEO सामने आने के बाद उठ रहे सवाल

उत्तरप्रदेश के कानपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिस वालों की ह#त्या के मुख्य आरोपी एवं कु’ख्या’त गैं’ग’स्ट’र विकास दुबे को कानपुर के भौ’ती इलाके में भागने का प्रयास करने के बाद हुई मु’ठ भे’ड़ के दौरान मा’र गिरा दिया गया. यूपी पुलिस ने यह ENCO-UNTER शुक्रवार सुबह उस समय किया जब उसे मध्यप्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार करके कानपूर लाया जा रहा था. वहीं अब यह ENCO-UNTER सवालों के घेरे में आ गया है.

वहीं पुलिस ENCO-UNTER के बाद ट्विटर पर #FakeEnco-unter ट्रेंड़ कर रहा हैं और कहीं लोग इस ENCO-UNTER को फर्जी बता रहे है. इसी बीच कानपुर के एडीजी जेएन सिंह ने  बताया कि पुलिस और एसटीएफ की गाड़ियां विकास दुबे को लेकिन उज्जैन से कानपूर आ रही थी. इसी दौरान एक गाड़ी दु’र्घट’नाग्र’स्त होकर पल’ट गयी थी.

 

इसी बीच एक वीडियो सामने आया है जो ENCO-UNTER पर उठ रहे सवालों के बीच खूब वायरल हो रहा है. वीडियो के अनुसार विकास को ले जा रहे काफिले के पीछे चल रही मीडिया की गाड़ियों को ENCO-UNTER वाली जगह से ठीक पहले ही रोक दिया गया था.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पुलिस का काफिला आगे बढ़ा और इसी दौरान मीडिया की गाड़ी को रोक दिया गया और थोड़ी ही दूरी तय करने के बाद कार पलट गई और फिर गैं’ग’स्ट’र विकास दुबे का ENCO-UNTER हो गया. न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार कानपुर के सचेंडी इलाके में पुलिस ने मीडिया की गाड़ियों को पुलिस ने रोक दिया था.

मीडिया की गाड़ियां उज्जैन से ही विकास दुबे को लेकर कानपूर जा रही पुलिस के काफिले के ठीक पीछे चल रही थी. सुबह के करीब साढ़े छह बजे जब पुलिस के फफिले ने कानपूर में एंट्री कि तो मीडिया की गाड़ियों को रोकने के लिए सचेंडी के पास अचानक चेक पोस्ट लगा दिया गया.

 

कानपुर पुलिस ने मीडिया की तमाम गाड़ियों को रोकने के लिए अचानक भारी फोर्स के साथ सड़क पर जाम लगा कर रोक दिया. इसी के चलते मीडिया गाड़ियों से पीछे रह रही. आपको बता दें कि इसके कुछ ही देर बाद पुलिस के काफिले की एक गाड़ी पलट गई और इसी गाड़ी में विकास दुबे बैठा था ऐसा बताया जा रहा है.

इसके कुछ ही देर बाद खबर मिली कि विकास दुबे को ENCO-UNTER में मा#र दिया गया. वहीं कई लोग मीडिया को घ’टनास्थल से ठीक पहले रोकने की पुलिस की मं’शा पर भी सवाल उठा रहे है. वहीं बड़ी तादात में लोग इस ENCO-UNTER को फर्जी बता रहे है और ट्वीटर पर #FakeEnco-unter ट्रेंड हो रहा है.

साभार- जनता का रिपोटर