आयशा का लिखा ख़त मिला, पुलिस ने पढ़कर सुनाया तो रोने लगा आरिफ, अभी खुलेंगे और बहुत रा’ज़

गुजरात: अहमदाबाद की रहने वाली लड़की, आयशा का वीडियो उसके जाने के बाद सोशल मीडिया में वायरल हुआ था. जिसके आधार पर उसके पति आरिफ को पुलिस ने राजस्थान के पाली शहर से गिरफ्तार कर लिया था. अब कुछ दिन बाद आयशा के पिता ने आयशा का लिखा हुआ एक पत्र पुलिस को दिया है.

इस ख़त को पढ़ने के बाद, ऐसा लगता है कि अपने आपको साबरमती में समाने से पहले, आयशा ने अपने घर पर लिखा होगा, और उसके बाद ही वह अहमदाबाद की साबरमती नदी, रिवर फ्रंट पर वह वीडियो बनाने आए थी जिसमें उसने अपने पति के बारे में जिक्र किया था.

आयशा का लिखा ख़त अगर सच हुआ तो उसके पति को आजीवन…

Aysha arif story ahmdabad

गुजरात के इस लड़की, आयशा के पिता ने पुलिस को आयशा के द्वारा लिखा हुआ कथित ये लेटर सौंप दिया है. अपने पति के नाम लिखे गए इस खत में आयशा ने अधिकतर अपने साथ पति द्वारा किए गए बर्ताव के बारे में लिखा है, कि किस तरह से उसके पति आरिफ ने उसको कमरे में 4 दिन के लिए बंद कर दिया था.

आयशा लिखती है कि, तुमने मुझे 4 दिनों तक के लिए एक कमरे में बंद कर दिया था, और ना ही मुझे खाना दिया और न ही पानी और उस समय में पे;ट से थी. तब तुम मेरी मदद के लिए नहीं आए नहीं आए, और तुमने मुझे खूब पीटा भी, जिसकी वजह से मेरा बच्चा म’र गया और अब मैं उसके पास ही जा रही हूँ.

मैंने तुम्हें कभी धो’खा नहीं दिया. ऐसा करके तुमने सिर्फ अपने घर में ही आ’ग नहीं लगायी, बल्कि तुमने एक साथ दो-दो हंसती खेलती हुई जिंदगी को ब’र्बाद करके रख दिया आई लव यू कुकू मैं गलत नहीं थी. में तुम्हारी आंखों पर फिदा थी लेकिन क्यों यह मैं अगले जन्म में ही बता पाऊंगी व यू .

हालांकि इस बात को अभी पक्के तौर पर नहीं कहा जा सकता कि यह खत आयशा ने लिखा है या किसी और ने. पुलिस पहले इसकी फॉ’रेंसिक जांच करेगी उसके बाद ही सही पता लग पाएगा कि यह आयशा के द्वारा लिखा गया है या किसी और ने इसको लिखा.

अदालत ने आरिफ को जेल भेजा

इधर, पुलिस ने उसके पति आरिफ को पुलिस ने अदालत में पेश किया है, पुलिस ने कोर्ट को बताया कि अब उनके पास आरिफ के खिलाफ सबूत मौजूद हैं, इसलिए उन्हें आरिफ की पुलिस कस्टडी नहीं चाहिए और कोर्ट ने आरिफ को जुडिशियल कस्टडी यानि के जेल भेज दिया.

आरिफ का अगर किसी लड़की के साथ प्रेम प्रसंग था तो वो किसके साथ था यह सब पुलिस उसके मोबाइल डाटा के जरिए जां’च करने में लगी हुई है, उसके बाद पता चल जाएगा कि वह लड़की कौन है और क्या उसकी वजह से ही आरिफ आयशा को परेशान करता था, और दहेज के लिए पैसे लाने के लिए कहता था.

मीडिया के अनुसार बताया जाता है कि जब आयशा की शादी हुई, तब उसके पिता ने अपना एक घर सिर्फ इसीलिए बेच दिया कि उनकी बेटी की शादी अच्छी तरह से हो सके. लेकिन उसके बावजूद भी वह खुशियाँ उनकी बेत को नही मिल सकीं जिसकी वो हक़दार थी. आरिफ लगातार आयशा से पैसों की मांग किया करता था.

दिल्ली (नोएडा) के रहने वाले ज़ुबैर शैख़, पिछले 10 वर्षों से भारतीय राजनीती पर स्वतंत्र पत्रकार और लेखक के तौर पर कई न्यूज़ पोर्टल और दैनिक अख़बारों के लिए कार्य करते हैं।