क़तर में हनीमून मनाने गए भारतीय दंपति को 10 साल की जेल, इस हरकत के चलते हुई 10 साल जेल

आज कल के वक्त में शादी के बाद नए कपल हनीमून के लिए जाते है. ऐसा ही एक कपल हनीमून के लिए खाड़ी देश कतर पहुंचा. लेकिन हनी मून पर गए कपल के साथ कुछ ऐसा हुआ जिसके बारे में उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा. दरअसल जब यह दोनों कपल हनीमून के लिए कतर पहुंचे तो इन्हें तुरंत ही गिरफ्तार कर लिया गया. इतना ही नहीं इसके बाद उन्हें जेल में डाल दिया गया जहां वो पिछले एक साल से स’जा का’ट रहे है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस नए कपल को शादी के बाद एक रिश्तेदार द्वारा कतर में हनीमून का ऑफर दिया गया था. लेकिन इसके साथ ही उन्होंने कपल के साथ चार किलो न#शी ला प’दा#र्थ भी रख दिया.

muslim coupl

इसके बाद जैसे ही जब यह दंपति कतर पहुंचे उन्हें ड्र’ग्स स्म’ग लि#गं के चलते गिरफ्ता’र कर लिया गया. जिसके बाद उन्हें अदालत ने दस सा’ल की स’जा सुनाई.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसा इस कपल का नाम ओनिबा और शरीक है तथा उनकी चाची तबस्सुम रियाज़ कुरैशी और उसके साथी निजाम कारा द्वारा उन्हें झांसा देकर फंसा दिया गया. वहीं कतर पुलिस द्वारा उसके पास से 4.1 किलो हशीश बरामद की गई थी.

इसके बाद दोनों के खिलाफ मुक’दमा चलाया और कपल को दस साल की स’जा सुनाई गई. हाल ही में वहीं जे’ल में उनकी बेटी का जन्म भी हुआ.

वहीं लड़की के पिता लगातार एनसीबी के बड़े-बड़े अधिकारीयों से मुलाकात करके अपनी बेटी और दामाद की रिहाई के लिए गुहार लगा रहे है. उनका कहना है कि उनकी बेटी तथा दामाद नि’र्दो’ष है.

वहीं कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो मुंबई लगातार दंप’ति शरीक और ओनिबा की रिहाई के लिए जद्दो-जहद कर रहे है. लड़की के पिता ने एनसीबी को अपनी बेटी और दामाद के निर्दोष होने के कुछ सबूत भी उपलब्ध कराए है. उन्होंने एनसीबी को कुछ दस्तावेज तथा आडियो क्लिप सौंपी हैं.

साभार- आजतक