VIDEO: हाई कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को कपिल मिश्रा का वीडियो दिखाते हुए लगायी फटकार, कहा कार्यवाही करो

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में हुई हिं’सा को लेकर हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट में हाई वोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। दरअसल, बुधवार को दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान जज भड़क उठे इस दौरान न्यायाधीश मुरलीधर ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता से कहा, ‘कि दिल्ली की परिस्थिति बेहद खराब है। और कई नेता भड़काऊ भाषण दे रहे हैं. हमने सभी वीडियो देखे हैं।

सुनवाई के दौरान अदालत ने कोर्ट रूम में BJP नेता कपिल मिश्रा की कथित भड़काऊ बयान वाला वीडियो क्लिप भी चलवाया और वीडियो कई सारे न्यूज चैनलों पर मौजूद है। लेकिन दिल्ली पुलिस का कहना था कि उसने कपिल मिश्रा का कोई वीडियो नहीं देखा है जिसके बाद जज भड़क गए।

 

दरअसल, इस वीडियो को तब चलाया गया, जब एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि उसने वीडियो नहीं देखा है. न्यायाधीश मुरलीधर ने कहा, सब इसे देखिए कोर्ट में कपिल मिश्रा का भाषण सुनने के बाद पुलिस अधिकारी ने वीडियो में मौजूद सब-इंस्पेक्टर की पहचान की।

सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मंदर की याचिका पर सुनवाई के दौरान कोर्ट ने दिल्ली पुलिस के वकील और अधिकारियों के सामने बीजेपी नेता कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर और भाजपा सांसद परवेश वर्मा की वीडियो क्लिप चलाई गयी. और पुलिस को कहा कि आप कार्रवाई करें, ताकि कोर्ट को कोई आदेश न देना पड़े।

दरअसल, अदालत में सुनवाई के समय दिल्ली पुलिस की ओर से कोर्ट में उपस्थित हुए सॉलिसिटर जनरल एसजी मेहता. कोर्ट ने दिल्ली में बिगड़ रहे हालातों का जायजा लिया था और कोर्ट में भाजपा नेता कपिल मिश्रा, सांसद परवेश वर्मा और वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर के वीडियो पर बात शुरू हुई।

जस्टिस एस मुरलीधरन ने दिल्ली पुलिस की ओर से कोर्ट में उपस्थित हुए एसजी मेहता से पूछा कि क्या आपने तीनों वीडियो देखे हैं? तो इस पर एसजी मेहता ने मना कर दिया. इस पर जस्टिस मुरलीधरन ने आपत्ति जताई. कहा कि क्या आप कह रहे हैं कि पुलिश कमिश्नर ने वो वीडियो ही नहीं देखा है, जो खुद उनसे जुड़ा हुआ है?

जस्टिस एस मुरलीधरन ने कहा की ये एक गंभीर मुद्दा है. मैं दिल्ली पुलिस का कामकाज देखकर चकित हूं. इसके बाद कोर्ट ने आदेश दिया कि पुलिस अधिकारियों और एसजी मेहता के लिए कोर्ट में वीडियो चलाए जाएं. कपिल मिश्रा का वीडियो चलाते हुए जस्टिस मुरलीधरन ने चिन्हित किया और कहा कि देखिए, वो कपिल मिश्रा तब बोल रहे हैं, जब डीसीपी उनके साथ में खड़ा है।

 

इस दौरान जस्टिस मुरलीधरन ने कहा कि अब आपने कपिल मिश्रा का वीडियो देख लिया है, आप खुद ही कमिश्नर को आदेश दें ताकि हमें कोई आदेश न देना पड़े. आखिरकार आप भारत के सॉलिसिटर जनरल हैं।

बता दें दिल्ली हाई कोर्ट में बीजेपी नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई चल रही है. इस याचिका में कपिल मिश्रा, प्रवेश वर्मा समेत कई बीजेपी नेताओं पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की गई है।

आपको बता दें दिल्ली हिं’सा में म’रने वालों का आंकड़ा 21 तक जा पहुंचा है. वही कल रात से अभीतक अकेले सात लोगों की जा’न गई है. हिं’सा को लेकर अब जाकर सरकार जागी है. कैबिनेट बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल हालात बताएंगे

Leave a Comment