मस्जिद के लिए मिली 4 एकड़ ज़मीन में बनेगा बड़ा हॉस्पिटल, हार्ट और किडनी जैसी बड़ी बीमारियों का कम खर्च में होगा इलाज

सुन्नी वक्फ बोर्ड को अयोध्या के धन्नीपुर गांव (Dhanipur) में मिली जमीन में से 4 एकड़ में बनने वाले सुपर स्पेशियलिटी चैरिटी अस्पताल, इंडो इस्लामिक रिसर्च सेंटर, म्यूजियम और कम्युनिटी किचन का नक्शा तैयार।

वर्षों पुराने अयोध्या (Ayodhya) राम मंदिर विवा’द का हाल ही में सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के फैसले के बाद निपटारा हुआ इसके अंतर्गत विवा’दित भूमि को राम जन्मभूमि माना गया और मस्जिद (Masjid) के लिये अयोध्या में 4 एकड़ ज़मीन देने का आदेश राज्य सरकार को दिया है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन के साथ ही मंदिर निर्माण का कार्य शुरू हो गया है।

आपको बता दें मुस्लिम समुदाय को मस्जिद बनाने के लिए दी गई जमीन पर सुन्नी वक्फ बोर्ड (Sunni Waqf Board) का फैसला आया है। जिसमें मस्जिद के लिए दी गई 4 एकड़ जमीन पर हॉस्पिटल (Hospital) बनाया जाएगा. अयोध्या राम मंदिर विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सुन्नी वक्फ बोर्ड को मस्जिद निर्माण के लिए अयोध्या के धनीपुर गांव (Dhanipur Village) में 4 एकड़ जमीन दी गई थी।

sunni waqf board

जिस पर अब सुन्नी बफ्फ बोर्ड ने हॉस्पिटल बनाने का फैसला लिया है। यह भी बता दें कि 4 एकड़ जमीन में बनने वाले इस सुपर स्पेशलिटी चैरिटी हॉस्पिटल और इंडो इस्लामिक रिसर्च सेंटर तथा म्यूजियम और कम्युनिटी किचन का नक्शा भी तैयार हो गया है।

4 एकड़ में बन रहे इस चैरिटी अस्पताल का नाम 1857 के क्रांतिकारी मौलाना अब्दुल बारी फरंगी महली, मौलवी अजीमुल्ला या हकीम अजमल खान के नाम से हो सकता है। 4 एकड़ में बन रहे इस चैरिटी अस्पताल में इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन के मुताबिक किडनी और हर्ट जैसी गंभी’र बीमा’रि’यों का इलाज किया जाएगा।

और यही नहीं इस चैरिटी अस्पताल में गंभी’र बीमारियों का इलाज बेहद सस्ते दामों में उपलब्ध कराया जाएगा जिससे कि अयोध्या और आसपास के लोगों को गंभी’र बीमारियों के इलाज के लिए लखनऊ और दिल्ली ना भागना पड़े।

इस चैरिटी अस्पताल में 150 से 200 बैडों की सुविधा उपलब्ध रहेगी, इंडो इस्लामिक रिसर्च सेंटर और म्यूजियम में हिंदुस्तान की साझी विरासत की झलक दिखाई जाएगी। इंडो इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के मुताबिक म्यूजियम में कबीर, रसखान, खुसरो और रहीम की जानकारी दी जाएगी।

वहीं म्यूजियम में महात्मा गांधी के करीबी रहे अब्दुल बारी फरंगी महली से भी लोगों का परिचय करवाया जाएगा। जानकारी के मुताबिक 4 एकड़ में बन रहा है चैरिटी अस्पताल बिल्कुल मॉल जैसा दिखेगा जिसका नक्शा भी तैयार किया जा चुका है लेकिन ट्रस्ट नहीं अभी इसका खुलासा नहीं किया है।