VIDEO: भुखमरी के मुहाने पर पहुंचे मजदूरों का विशाल पलायन, झूठे निकले योगी के दावे वीडियो देख दंग रह जाओगे

हमारे देश एक रंगमंच है, जिसपर माइक लिए एक प्रधानमंत्री खड़ा है. और सके भोंपू की आवाज इतनी बुलंद है कि बाकी सभी आवाजें शुन्न पड़ जाती हैं. हाल ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया भर में कोहराम मचा रहे कोरोना वायरस को देखते हुए देशभर में 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया है। इसके पीछे का मकसद सोशल डिस्टेंसिंग को सुनिश्चित करना था।

लेकिन लॉकडाउन के ऐलान के सिर्फ 3 दिन में ही भुखमरी के मुहाने पर पहुंचे सैकड़ो कामगार अपने घरों को पैदल कूच करने को मजबूर हैं। सरकार द्वारा दुकाने और विभिन्न संस्थानों को बंद करने के फैसले के बाद कई क्षेत्र के हजारों मजदूरों ने पलायन शुरू कर दिया है।

जिसमे ऑटो-रिक्शा और टैक्सी ड्राइवर से लेकर दिहाड़ी मजदुर अपने घर वापस जाने के लिए जुटे हुए हैं। वही एक ओर जहां सरकार ने कोविड-19 से बचने के लिए घरों के अंदर रहने की सलाह दी है, तो वहीं इन मजदूरों के घर वापसी के लिए इकट्ठा होने को मजबूर है।

इन्ही में से एक वीडियो जो उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के उस दावे की पोल भी खोल रहा है जिसमें कहा गया था कि इन मजदूरों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए सरकार हर सम्भब व्यवस्था कर रही है।

दरअसल, कांग्रेस ने भी इस वीडियो ट्वीट कर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उस घोषणा की आलोचना की है जिसमें कहा गया था कि इन प्रवासी मजदूरों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है।

 

Leave a Comment