Zee News के मालिक सुभाष चंद्रा के ज़ी समूह पर इनकम टैक्स की रेड, 15 ठिकानों पर चल रही जांच

ज़ी समूह पर टैक्स चोरी का आरोप, 15 ठिकानों पर आईटी की छापेमारी, हो रही है पूछताछ

जी ग्रुप का नाम तो आपने सुना ही होगा बता दें कि जी ग्रुप का मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में अपना एक अलग ही दबदबा है। एस्सेल ग्रुप के समूह में शामिल जी ग्रुप के मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में कई चैनल है। लेकिन अब सुभाष चंद्रा के एस्सेल ग्रुप के समूह में शामिल जी ग्रुप से जुड़ी हुई एक बड़ी खबर सामने आई है जिसमें जी ग्रुप के ठिकानों पर छापा पड़ा है।

बता दें कि हाल ही में आयकर विभाग ने जी ग्रुप के 15 ठिकानों पर छापेमारी की है जिसमें जी ग्रुप पर टैक्स चोरी के आरोप लग रहे हैं। आयकर विभाग को जीएसटी इंटेलिजेंस ने जी ग्रुप के टैक्स चोरी करने की जानकारी दी जिसके बाद अब आयकर विभाग ने जी ग्रुप के 15 ठिकानों पर अचानक रेड मा’री है।

इनकम टैक्स के अधिकारी पहुंचे जी ग्रुप के कार्यालय

179210 sjy2AbJM9AzW1PUZleRiTHR70zb5YL

आपको बता दें कि आयकर विभाग को जीएसटी इंटेलिजेंस ने जी ग्रुप के के टैक्स चोरी होने की जानकारी दी जिसके बाद आयकर विभाग की 6 सदस्यों वाली टीम मुंबई स्थित जी एंटरटेनमेंट के कार्यालय पहुंच गई।

आयकर विभाग के अधिकारी टैक्स क्रेडिट का वेरिफिकेशन करने के लिए भी ग्रुप के एक कार्यालय पहुंचे थे जहां उन्होंने सोमवार को जी समूह और लार्सन एंड ट्रुबो के कार्यालय में टैक्स क्रेडिट का वेरिफिकेशन किया।

वहीं जब इस मामले पर आयकर विभाग के अधिकारी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि “हमें जानकारी हुई थी कि जी ग्रुप फर्जी इनपुट टैक्स क्रेडिट कर रहा है। जिसके बाद हम लार्सन एंड टूब्रो और इसी ग्रुप के कार्यालय में यह वेरिफिकेशन कर रहे हैं।

अधिकारी ने यह भी कहा कि यह सिर्फ एक वेरिफिकेशन प्रोसेस है और सिर्फ एक सीमित कार्यवाही है। लेकिन हम इन समूहों और इन समूहों से जुड़ी कंपनियों के फर्जी टैक्स क्रेडिट के दावों की जांच कर रहे हैं।

वहीं आयकर विभाग की टीम पहुंचने पर ज़ी एंटरटेनमेंट के एक अधिकारी ने कहा कि “ इनकम टैक्स के अधिकारी कार्यालय पहुंचे थे लेकिन कंपनी के संबंधित अधिकारी उन्हें सभी आवश्यक जानकारी उपलब्ध करवा रहे और आयकर विभाग की टीम का पूरा सहयोग कर रहे हैं।

वहीं आपको यह भी बता दें कि आयकर विभाग के अधिकारी कंपनी के परेल और वर्ली के कार्यालय पर भी पहुंचे थे उन्होंने वहां पहुंचकर अधिकारियों से सवाल जवाब किए थे और अब अधिकारी मुंबई स्थित जी एंटरटेनमेंट के कार्यालय पहुंचे हैं।