विकास का धनकुबेर: जय बाजपाई ने IPL स’ट्टेबाजी से लेकर बेनामी संपत्ति तक लगा रखें थे विकास के अरबों रुपये

कु’ख्या’त गैं’ग’स्ट’र विकास दुबे और उसके सबसे खास और करीबियों में शामिल रहे जय बाजपाई के बीच पिछले एक साल के अंदर आधा दर्जन बैंक खातों के जरिए 75 करोङ का लेनदेन हुआ था. यह चौंकाने वाला खुलासा पुलिस जांच और पूछताछ के दौरान हुआ हैं. पुलिस ने इससे सम्बंधित सभी दस्तावेज जुटा लिए है और अब इन्हें ईडी को भेजने की तैयारी की जा रही हैं. पूछताछा में सामने आया है कि इस दौरान करोड़ों का लेन देंन नकद में भी हुआ हैं.

लेकिन इसका कोई लेखा जोखा मौजूद नहीं है. पुलिस ने जय बाजपाई को कानपुर में आठ पुलिसकमियों की ह#त्याकां’ड के बाद हिरासत में लिया था. जय ने पूछताछ के दौरान कई राज खोले है जिससे और भी कई बड़े खुलासे होने की उम्मीद जताई जा रही हैं.

जय के अनुसार वो विकास का पैसा अलग-अलग धं’धों में डालता था और उसे हर महिना एक मोटी रकम भेजता था. जय ने विकास से काफी पैसा ब्याज पर भी ले रखा था जिसमें से कुछ को प्रॉपर्टी में निवेश किया था.

पुलिस जय और विकास के पिछले चार साल के बैंक रिकॉर्ड खंगाल रही है. एसटीएफ और पुलिस की जांच में एक और बड़ा खुलासा यह हुआ है कि विकास की रकम का एक बड़ा हिस्सा जय बाजपाई द्वारा आईपीएल में सट्टे पर लगाया जाता था. जय ने विकास के पैसों से मैच में करीब 5 करोड़ रुपये का स’ट्टा लगाया था.

खबरों के अनुसार जय ऑनलाइन स’ट्टा खेलता था. वहीं कुछ ऐसे सबूत भी मिले है जिससे जय बाजपाई के साथ कुछ विदेशी लोगों के स’ट्टेबा’जी में शामिल होने का शक बताया जा रहा हैं. वहीं ब्लैक पैसे को वाइट करने के लिए इसे एक डॉक्टर द्वारा अपने हॉस्पिटल में लगवाया गया था.

कल्याणपुर का रहने वाला यह डॉक्टर विकास को हर महीने 6 से 7 लाख रुपये पहुंचाता था. पुलिस और एसटीएफ टीम डॉक्टर से भी पूछताछ कर रही हैं. इस दौरान उसके बीच भी करोङो रुपये का लेनदेन सामने आया है. बताया जा रहा है कि सबूत मिलने के बाद डॉक्टर पर भी कार्रवाई की जाएगी.

आपको बता दें कि बि’करु कां’ड की रात ही जय बाजपाई को पुलिस ने हि’रासत में ले लिया था. लेकिन पुलिस ने अब तक उसके ऊपर कोई केस दर्ज नहीं किया है और ना ही उसे छोड़ा है. ऐसे में सवाल उठता है कि इन हालातों में पुलिस कब तक जय को रख पाएगी. वहीं जय के खि’लाफ कार्रवाई में देरी भी समझ के परे हैं.

साभार- जनज्वार