सुब्रमण्यम स्वामी ने BJP आईटी सेल चीफ अमित मालवीय को हटाने के लिए दिया एक दिन का वक्त, कहा- अगर नहीं हटाया गया तो..

बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने एक बार फिर से अपनी ही पार्टी को अल्टीमे’टम दे डाला है. स्वामी ने बीजेपी से मांग की है कि वो अपने आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय को गुरुवार तक पद से हटा’ए. बता दें कि इससे एक दिन पहले ही स्वामी ने अमित मालवीय पर गंभी’र आरो’प लगाए थे. स्वामी ने दावा करते हुए कहा कि उनके खिला’फ अमित मालवीय फेक ट्वीट्स के जरिए अभियान चला रहे हैं.

स्वामी ने भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा के सामने एक समझौता प्रस्ताव रखा है. उन्होंने अपने ट्वीट में बताया कि मैंने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को अमित मालवीय को ह’टाने के लिए समझौता प्रस्ताव दिया है.

Subramanian Swamy

उन्होंने आगे लिखा कि अगर बीजेपी मालवीय को नहीं हटा’ती है तो इसका साफ मतलब होगा कि बीजेपी पार्टी मेरा बचाव नहीं करना चाहती है. उन्होंने कहा कि चूं’कि बीजेपी में ऐसा कोई भी फोर’म नहीं है, जहां मैं कैड’र की राय ले सकूं, इसलिए इस स्थिति में मुझे खुद अपना बचाव करना होगा.

इसके साथ ही अमित मालवीय को हटा’ने की बीजेपी अध्यक्ष नड्डा से मांग करने वाले प्रस्ताव को सुब्रमण्यम स्वामी ने 5 गांव मांगने के समझौते जैसा करार दिया. बता दें कि महाभारत के Yuddh से पहले पां’डवों ने कैरावों से 5 गांव मांगे थे.

सोमवार को सुब्रमण्यम स्वामी ने पहली बार बीजेपी आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय को निशा’ने पर लिया था. उन्होंने कहा कि बीजेपी आईटी सेल अब पहले जैसा नहीं रहा. इसके कई सदस्य फेक आईडी से ट्वीटस करके मुझ पर लगातार निजी तौर पर हम’ला कर रहे है.

स्वामी ने बीजेपी आईटी सेल को चेता’ते हुए आगे लिखा कि अगर मेरे चाहने वाले फॉलो’वर्स ने जवाब तौर पर निजी हम’ले शुरू कर दिए तो फिर इसके लिए मुझे जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है. ठीक उसी तरह जैसे पार्टी के आईटी सेल की करतू’तों के लिए बीजेपी हरक’तों के लिए बीजेपी को जिममेदार नहीं कहा जा सकता है.

आपको बता दें कि सुब्रमण्यम स्वामी कई मुद्दों पर अपनी ही पार्टी की सरकार को घेरते नजर आते है. उन्होंने हाल ही में अर्थ’व्यव’स्था, जेईई नीट परीक्षा कराने के सरकार के फैसले जैसे कई मुद्दों पर खु’लकर मोदी सरकार पर हम’ले बोले.